लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में भले ही समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन किया हो, लेकिन उनका फोकस दक्षिण के राज्यों पर भी है. इसी कारण वहां का दौरा कर वह जनसभाएं कर रही हैं.

 

आज इसी क्रम में वह आंध्र प्रदेश के तिरुपति में एसवीयू स्टेडियम में अपनी पहली जनसभा को संबोधित करेंगी. वहीं, उनकी दूसरी जनसभा हैदराबाद के तेलंगाना में एलवी स्टेडियम में होगी. आंध्र प्रदेश में लोकसभा के साथ ही विधान सभा चुनाव भी हो रहे रहे हैं. बसपा वहां पर अभिनेता पवन कल्याण की जन सेवा पार्टी के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ रही है.

मेनका गांधी का हमला, ‘टिकट की सौदागर हैं मायावती, बिना पैसे के किसी को नहीं देती टिकट’

विजयवाड़ा में चुनावी सभा के दौरान मायावती ने दिया प्रधानमंत्री पद की दावेदारी का संकेत
गौरतलब है कि मायावती ने बुधवार को आंध्र प्रदेश के ही विजयवाड़ा में चुनावी सभा को संबोधित किया था. वहां से उन्होंने प्रधानमंत्री पद की दावेदारी के संकेत भी दिये थे. बसपा मुखिया लोकसभा चुनाव को लेकर बेहद गंभीर हैं. उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश व उत्तराखंड में समाजवादी पार्टी के साथ तथा हरियाणा, छत्तीसगढ़ व राजस्थान में भी अपने प्रत्याशी उतारने वाली बसपा दक्षिण भारत में अपना प्रसार कर रही है.