जयपुर: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर शनिवार को निशाना साधते हुए पूछा कि वह कोटा में मारे गए नवजात बच्चों की माताओं से मिलने क्यों नहीं गईं. बसपा प्रमुख ने कहा कि जयपुर में शादी में उपस्थित हो सकती हैं, लेकिन समय निकालकर मारे गए बच्चों के परिजनों से क्यों नहीं मिल सकती है. Also Read - WB Assembly elections 2021: कांग्रेस पार्टी को बंगाल में बड़ा झटका, उम्मीदवार रेजाउल हक की कोरोना से मौत

  Also Read - Maharashtra Lockdown: महाराष्ट्र में लॉकडाउन जैसी पाबंदियों के बीच देवेंद्र फडणवीस ने की यह मांग...

कांग्रेस नेता जुबैर खान के बेटे की शादी में शामिल होने के लिए प्रियंका ने शुक्रवार को जयपुर का दौरा किया था. इस दौरान उनके साथ राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी मौजूद थे. मायावती ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर श्रृंखला बद्ध रूप से ट्वीट कर कांग्रेस की महासचिव पर निशाना साधा. मायावती ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से कहा कि बसपा किसी भी मामले में कांग्रेस, भाजपा व अन्य पार्टियों की तरह अपना दोहरा मापदंड अपनाकर घटिया राजनीति नहीं करती है. इसी कारण आज पूरे देश में हर तरफ किसी ना किसी मामले को लेकर हिंसा, तनाव व अशांति व्याप्त है. उन्होंने आगे कहा कि लेकिन ऐसे माहौल में भी अन्य पार्टियों की तरह कांग्रेस पार्टी भी अपने आपको बदलने को तैयार नहीं है, जिसका ताजा उदाहरण कांग्रेस शासित राजस्थान के कोटा अस्पताल में वहां सरकारी लापरवाही के कारण बड़ी संख्या में मासूम बच्चों की हुई मौत का मामला है.

वाराणसी पहुंची प्र‍ियंका गांधी को संबित पात्रा ने दी कोटा जाने की चुनौती

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि कांग्रेस की नेता उत्तर प्रदेश में तो आए दिन यहां घड़ियालू आंसू बहाने आ जाती हैं. लेकिन राजस्थान में कल (शुक्रवार को) वह अपने निजी कार्यक्रम के दौरान अपना थोड़ा सा भी समय कोटा में उन बच्चों की मांओं के आंसू पोंछने के लिए निकालना उचित नहीं समझती हैं, जबकि वह भी एक मां हैं, यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण है. इसके बाद ट्विटर यूजर्स ने भी इस ट्वीट को शेयर कर प्रियंका से पूछा कि क्या वह कोटा स्थित जेके लोन अस्पताल का दौरा करेंगी, जहां से अनियमितताओं की खबरें आ रही हैं. (इनपुट एजेंसी)