Mehbooba Mufti ने अपने आधिकारिक निवास की सजावट में 88 लाख रुपये खर्च कर दिए. RTI में इसका खुलासा हुआ है, जिसके मुताबाक पूर्व सीएम मेहबूबा मुफ्ती ने अपने आधिकरिक निवास की साज-सज्जा में लाखों रूपये खर्च कर दिए थे और इसका भुगतान भारत सरकार ने किया था.Also Read - Jharkhand: कश्मीरी युवकों पर हमला, धार्मिक नारे दोहराने का दबाव बनाया, कई हिरासत में

जानकारी के मुताबिक, महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री रहते हुए श्रीनगर के गुपकार रोड स्थित अपने आधिकारिक निवास की साज-सज्जा सरकार के पैसों से की. उन्होंने महज छह महीने में लगभग लाखों रुपये खर्च कर दिए थे. एक RTI के जवाब में इसका खुलासा हुआ है कि जनवरी-जून 2018 के बीच, मुफ्ती ने बेडशीट, फर्नीचर, टीवी जैसी चीजों पर लगभग 88 लाख रुपये खर्च किए. RTI जम्मू-कश्मीर स्थित कार्यकर्ता इनाम-अन-नबी सौदागर की ओर से दायर की गई थी. Also Read - J&K में जारी कुलगाम एनकाउंटर में अब तक दो आतंकी मारे गए, स्‍कूली बच्‍चों समेत 60 लोगों को बचाया गया

12 लाख की बिस्तर की चादरें, 22 लाख की LED TV 
RTI में सामने आया कि 28 मार्च 2018 को महबूबा ने एक दिन में कारपेट खरीदने के लिए 28 लाख रुपये खर्च किए. जून 2018 में, उन्होंने कई लग्जरी खरीदारी में 25 लाख रुपये से ज्यादा खर्च किए. इनमें LED TV पर 22 लाख रुपये का खर्च शामिल है. Also Read - जम्मू-कश्मीर: आतंकियों को आर्थिक मदद पहुंचाने वालों पर शिकंजा, 43 लाख रुपये के साथ तीन अरेस्ट

1 सितंबर, 2020 को मिले RTI जवाब की कॉपी में 30 जनवरी 2017 को 14 लाख रुपये का खर्च सामने आया है. इसमें 2,94,314 रुपये का एक गार्डन अंब्रेला शामिल है. इसके अलावा फरवरी 2018 को 11,62,000 रुपये की बेडशीट खरीदी गई थीं.

मार्च 2018 में मुफ्ती ने लगभग 56 लाख रुपये खर्च किए, जिसमें फर्नीचर पर 25 लाख रुपये और कालीनों पर लगभग 28 लाख रुपये शामिल थे. खरीदे गए सामान में अगस्त 2016 से जुलाई 2018 तक दो वर्षों की अवधि में 40 लाख रुपये के कटलरी आइटम शामिल हैं.

महबूबा मुफ्ती का बाथ स्लीपर ही 6800 रुपये का था. सवा लाख रुपये वैक्यूम क्लीनर पर भी खर्च किए गए. नई कुर्सियां भी खरीदी गई. महबूबा के लिए वर्ष 2017 में 1.37 रुपये की रिवाल्विंग चेयर भी खरीदी गई.

इस तरह से सरकारी धन को पानी की तरह बहाकर कुल 14 महंगी चीजें खरीदी गईं, यह सारी जानकारी आरटीआइ के जवाब में मिली है.