नई दिल्ली: पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में मंत्रिमंडल ने संयुक्त राष्ट्र के सभी सदस्य देशों को अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) की सदस्यता के लिए इसके समझौता ढांचे में संशोधन करने के उद्देश्य से गठबंधन की प्रथम बैठक में प्रस्ताव पेश करने को मंजूरी दे दी है. मंत्रिमंडल का उद्देश्य इसे वैश्विक एजेंडा बनाने का है जिसके चलते यह कदम  उठाया गया है. Also Read - Xiaomi बना रहा है सोलर पैनल वाला स्मार्टफोन, ऑटोमेटिक चार्ज होगा फोन

मजबूत वैश्विक रुख से सोना 0.11 प्रतिशत बढ़ा, 31,784 रुपये प्रति 10 ग्राम नई कीमत Also Read - 13 प्वाइंट रोस्टर पर सरकार का बड़ा फैसला, बनाई गई नई व्यवस्था

वैश्विक एजेंडा
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई. सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देशों को अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन की सदस्यता देने से सौर ऊर्जा का मुद्दा वैश्विक एजेंडा में शामिल हो जाएगा और सौर ऊर्जा के विकास और तैनाती के लिए सार्वभौमिक अपील की जा सकेगी. यह अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) को समावेशी बनाएगा जिसके अंतर्गत संयुक्त राष्ट्र के सभी सदस्य देश अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन के सदस्य होंगे. सदस्यता के विस्तार से आईएसए विश्व स्तर पर लाभ प्रदान करेगा. (इनपुट एजेंसी) Also Read - 12 राज्यों में बनेंगे 13 केंद्रीय विश्वविद्यालय, मोदी कैबिनेट ने Rs. 3600 करोड़ किए मंजूर

5 महीने बाद अक्टूबर में एक बार फिर एक लाख करोड़ रुपये के पार पहुंचा GST संग्रह: जेटली