नई दिल्ली: राज्यसभा में गुरुवार को भी गतिरोध बरकरार रहने के कारण सदन की बैठक दिन भर के लिए स्थगित होने के बाद अन्नाद्रमुक, टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों ने विभिन्न मुद्दों पर संसद भवन परिसर में गांधी प्रतिमा के समक्ष प्रदर्शन किया. अन्नाद्रमुक सदस्यों ने कावेरी पर बांध के विरोध में गांधी प्रतिमा के समक्ष तख्तियां लेकर प्रदर्शन किया. प्रदर्शन में पार्टी के दोनों सदनों के सदस्य शामिल थे.Also Read - Constitution Day: संसद और सुप्रीम कोर्ट सहित कई समारोहों में शामिल होंगे पीएम मोदी

Also Read - Parliament Winter Session: संसद सत्र 29 नवंबर से, लोकसभा-राज्यसभा में किसे मिलेगी एंट्री, किसे नहीं, गाइडलाइन जारी

इसके बाद टीडीपी सदस्यों ने आंध्र प्रदेश की विभिन्न मांगों को लेकर गांधी जी की प्रतिमा के समक्ष एकत्र होकर प्रदर्शन किया. टीडीपी सदस्य आंध्र प्रदेश की प्रस्तावित राजधानी अमरावती के लिये विशेष वित्तीय मदद दिए जाने और कडपा में इस्पात सयंत्र लगाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे. Also Read - प्राइवेट Cryptocurrency पर बैन लगाने वाला विधेयक शीत सत्र में पेश करेगी सरकार, कृषि कानून भी लिए जाएंगे वापस

इस दौरान वाईएसआर कांग्रेस के राज्यसभा सदस्यों ने भी आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया. वाईएसआर कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य विजयसाई रेड्डी की अगुवाई में पार्टी सांसदों ने संसद भवन परिसर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के निकट तख्तियां लेकर प्रदर्शन किया.

बता दें कि गत 11 दिसंबर को संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने के बाद लगातार दूसरे सप्ताह उच्च सदन में विभिन्न मुद्दों पर विपक्ष और सत्तापक्ष के सदस्यों के हंगामे के कारण कार्यवाही बाधित है.