नई दिल्लीः इस साल ठंड ने अपना प्रचंड रूप दिखाया है और यही कारण है कि पिछले 20 दिनों से पूरे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है. सर्दी ने किस प्रकार पूरा जनजीवन ठप कर दिया है इसे हम इस बात से समझ सकते हैं कि दिसंबर माह में इस बार कई सालों का रिकॉर्ड टूट गया है. दिसंबर के आखिरी सप्ताह में तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से कम रहा और यह 100 साल में ऐसा चौथी बार ही हुआ है. कड़ाके की ठंड को देखते हुए मौसम विभाग की तरफ से चेतावनी दी है.

इस बीच मौसम विज्ञान विभाग ने रविवार के लिए पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए ‘रेड कोडेड’ चेतावनी जारी की है और मध्य प्रदेश के लिए पीले (ऐंबर) रंग की चेतावनी जारी की है. रेड कोडेड चेतावनी तब जारी की जाती है जब मौसम की परिस्थतियां चरम होती हैं. मौसम विभाग के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ क्षेत्रों में शनिवार को तापमान दो डिग्री सेल्सियस से भी नीचे चला गया और लोधी रोड वेधशाला में यह 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. 1901 के बाद से यह दूसरा सबसे ठंडा दिसंबर दर्ज होने की राह पर है. मौसम विभाग के अनुसार अभी इन राज्यों में ठंड और अधिक कहर बरपा सकती है और आने वाले नए साल की शुरुआत में बारिश के कारण यह और अधिक परेशान कर सकती है.

आपको बता दें कि पिछले एक कल शनिवार का दिन राजधानी के लिए दिनभर ठिठुरन भरा रहा. कई जगहों में पारा 2 डिग्री के नीचे तक पहुंच गया. एक जानकारी के मुताबिक 1997 के बाद यह पहला मौका है जब राष्ट्रीय राजधानी में लगातार 11वां दिन बेहद सर्द दिन रहा. एक बार को छोड़ दिया जाए तो 17 दिसंबर के बाद से दिन का अधिकतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस से आगे नहीं बढ़ा है. बर्फ से ढकी हिमालय की पहाड़ियों से सर्द उत्तरी हवाओं के बहने के कारण लगातार ठंड के हालात बने हुए हैं.

राजस्थान के पांच शहरों में न्यूनतम तापमान शून्य से नीचे चला गया. राजस्थान के फतेहपुर में तापमान शून्य से तीन डिग्री सेल्सियस नीचे, जोबनर में शून्य से दो डिग्री नीचे, आबू में शून्य से 1.5 डिग्री नीचे, सीकर में शून्य से 0.8 डिग्री नीचे और चुरू में शून्य से छह डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ. इसके अलावा पिलानी (0.4), राजसमंद (1.4), गंगानगर (1.4), अलवर (2.0), उदयपुर (3.2), जयपुर (4.0), अजमेर (4.0) और रामगंजमंडी (4.0) रहे. चार डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ जयपुर पिछले पांच सालों में दिसंबर में सबसे ठंडा रहा, जबकि जोधपुर में 4.4 डिग्री दर्ज किया गया.