शिमला: हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में अगले दो दिनों में और ज्यादा आंधी-तूफान आने की आशंका है. मौसम विभाग ने रविवार को यह जानकारी दी. एक सरकारी प्रवक्ता ने कहा कि कुल्लू, सिरमौर, चंबा, लाहौल एवं स्पीति और कन्नूर जिलों में यात्रा करने से बचने को लेकर एक दिशा-निर्देश जारी किया गया है क्योंकि आगामी 24 घंटों मे बर्फबारी और बारिश होने की काफी संभावना है.

शिमला के मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार तक राज्य में कुछ जगहों पर आंधी-तूफान के साथ बारिश आने व 50 से 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की आशंका है. किन्नौर जिले के कल्पा में 3.6 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि लाहौल एवं स्पीति जिले के केलांग में पांच मिलीमीटर बारिश हुई.

हालांकि, शिमला में सिर्फ हल्की बारिश हुई, जबकि मनाली में 8.2 मिलीमीटर, धर्मशाला में 6.6 मिलीमीटर और पालमपुर में 12.9 मिलीमीटर बारिश हुई. शिमला में न्यूनतम तापमान 15.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जबकि कल्पा में 7 डिग्री, धर्मशाला में 16.4 डिग्री, मनाली में 10 डिग्री और डलहौजी में 12.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ.

यूपी: मौसम विभाग ने फिर आंधी-तूफान की आशंका जताई, जिलाधिकारियों को निर्देश जारी

बता दें कि  मौसम विभाग ने पिछले दिनों उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ एवं आसपास के जिलों में एक बार फिर आंधी तूफान आने की आशंका व्यक्त की है. मौसम विभाग के अनुसार 13 और 14 मई को उप्र के कई जिलों में तूफान आने के आसार हैं. सभी जिलों के जिलाधिकारियों को इस बाबत अलर्ट रहने का निर्देश जारी किया गया है.

(इनपुट-एजेंसी)