नई दिल्‍ली: देश की राजधानी में कोरोना के इलाज में आम लोगों को राहत देते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने निजी अस्‍पतालों में नए रेट तय कर दिए हैं. इससे अब आम लोगों को राहत मिल सकेेेगी. Also Read - यूपी के विश्वविद्यालयों में जल्द शुरू की जाएगी ऑनलाइन क्लास, जानें एडमिशन और परीक्षाओं की पूरी जानकारी

केंद्रीय गृह मंत्रालय के मुताबिक, समिति ने सभी अस्पतालों में क्रमश: 8000-10000, 13000-15000 और 15000-18000 के लिए अलग-अलग बेड के लिए PPE लागत, बिना ICUs और वेंटीलेटर के साथ की सिफारिश की है. जबकि वर्तमान में इजाल की दरें 24000-25000 रुपए 34000-43000 और 44000-54000 रुपए है. मौजूदा दरों में पीपीई किट की कीमत शामिल नहीं है. Also Read - पर्यटकों के लिए खुशखबरी, इस दिन से देख सकेंगे जम्मू-कश्मीर की हसीन वादियां, दिशानिर्देश जारी

वहीं, बैठकों की श्रृंखला में गृहमंत्री अमित शाह द्वारा लिए गए फैसलों का तत्काल पालन करते हुए सैंपल की टेस्टिंग दोगुनी कर दी गई है. दिल्ली में 15 जून से 17 जून 2020 तक कुल 27,263 सैंपल इकट्ठे किए गए जबकि पहले हर दिन 4,000- 4,500 के बीच सैंपल इकट्ठे किए जा रहे थे. Also Read - डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने LNJP अस्पताल का किया दौरा, कोरोना उपचार का लिया जायजा

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा है कि दिल्ली में कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर बीते कुछ दिनों में बैठकों की श्रृखंला में गृह मंत्री अमित शाह द्वारा दिए गए निर्देशों के मुताबि​क दिल्ली के 242 कंटेनमेंट ज़ोन में कल घर-घर जाकर स्वास्थ्य सर्वे पूरा ​किया गया. कुल 2.3 लाख लोगों का सर्वे किया गया है.

बता दें कि दिल्ली में आम आदमी को राहत देने के लिए, एचएम अमित शाह ने दिल्ली में प्राइवेट अस्पतालों द्वारा अलगाव बेड, वेंटिलेटर सपोर्ट के बिना ICUs और वेंटिलेटर सपोर्ट के साथ ICUs के लिए दरों का निर्धारण करने के लिए नीति आयोग के सदस्य के तहत एक समिति का गठन किया.