मुंबई. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व लोकसभा सदस्य मिलिंद देवड़ा ने मंगलवार को कहा कि पार्टी की मुंबई इकाई में जो कुछ भी हो रहा है, उससे वह ‘निराश’ हैं. देवड़ा ने यह भी कहा कि वह आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने पर फिर से विचार करेंगे और यदि मौजूदा स्थिति कायम रही तो वह राजनीति में नहीं रहना चाहेंगे.Also Read - औरंगाबाद का नाम बदला तो सरकार खतरे में पड़ जाएगी: संजय निरुपम

Also Read - Bihar Election Result 2020: शिवसेना के 21 उम्मीदवारों पर NOTA भारी, संजय निरुपम में किया कटाक्ष

कई ट्वीट कर देवड़ा ने कहा कि कांग्रेस की मुंबई इकाई गुटबाजी का मैदान नहीं बन सकती, जिसमें (पार्टी के) एक नेता को दूसरे नेता से भिड़ाया जाए. उन्होंने कहा कि वह पार्टी के अंदरूनी मामलों पर सार्वजनिक तौर पर चर्चा नहीं करना चाहते थे, लेकिन एक हालिया इंटरव्यू में की गई टिप्पणियों ने उन्हें बाध्य कर दिया कि वह मुंबई कांग्रेस को शहर की विविधता का प्रतीक बनाए रखने को लेकर अपनी ठोस प्रतिबद्धता दोहराएं. Also Read - CWC Meet: दो फाड़ हुई कांग्रेस, राहुल गांधी के बयान पर भड़के सिब्बल, आजाद बोले - अगर आरोप साबित हुआ तो...

देवड़ा ने कहा कि मुंबई जैसे शहर में लोगों को साथ लाने की जरूरत है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘जो कुछ भी हो रहा है उससे मैं निराश हूं और लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए मेरे रुख से पार्टी अवगत है. बहरहाल, मुझे अपने केंद्रीय नेतृत्व और हमारी पार्टी की विचारधारा एवं सिद्धांतों को लेकर उसकी प्रतिबद्धता पर पूरा यकीन है.

देवड़ा ने कहा, मैं मुंबई में कांग्रेस के सभी नेताओं से अपील करता हूं कि वे एक टीम के तौर पर एकजुट रहें. अपनी पार्टी और कांग्रेस अध्यक्ष (राहुल गांधी) के लिए हमें इतना तो करना ही चाहिए.