लुधियानाः पंजाब के लुधियाना जिले के एक स्कूल में प्रधानाध्यापक एवं एक शिक्षक द्वारा छोटी और चुस्त पैंट पहनने के कारण पूरे कक्षा के सामने कथित पिटाई और अपमान से आहत नाबालिग छात्र ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली . पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी. पुलिस के अनुसार छात्र धनंजय तिवारी ने गुरुवार रात दाबा क्षेत्र में स्थित अपने घर में यह आत्मघाती कदम उठाया.

तिवारी के पिता ब्रिज राज तिवारी द्वारा दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि स्कूल शिक्षक, प्रधानाध्यापक और निदेशक ने चुस्त और छोटी पैंट पहनने को लेकर उसे गालियां दी और पिटाई की. पिता ने आरोप लगाया कि उसके बेटे को पूरी कक्षा के सामने पीटा गया और उसे अपमानित किया गया.

हत्या मामला: अदालत ने आठ महिला समेत 23 को सुनाई उम्र कैद की सजा

पुलिस ने स्कूल की प्रधानाध्यापक सरोज शर्मा, शिक्षिका पूनम और स्कूल के निदेशक प्रभु दत्त के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है लेकिन अबतक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है .

उन्होंने बताया कि दत्त और सरोज पति पत्नी हैं . छात्र की मां ने कहा कि बटे ने पूरा वाकया उन्हें बताया था और इस घटना के बाद स्कूल जाना बंद कर दिया था. पुलिस अधिकारी सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं. तिवारी के पिता मूल रूप से उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले के रहने वाले हैं और वह यहां एक फैक्ट्री में काम करते हैं.