श्रीनगर: लद्दाख के करगिल जिले में 145 दिन बाद मोबाइल इंटरनेट सेवाएं शुक्रवार को बहाल कर दी गई है. बता दें कि जम्‍मू-कश्‍मीर में 5 अगस्‍त को संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने के बाद मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई थीं.

अधिकारियों ने बताया कि केंद्र द्वारा पांच अगस्त को संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने के बाद से यहां 145 दिन तक इंटरनेट सेवा निलंबित थी.

अधिकारियों ने बताया कि स्थानीय धार्मिक नेताओं ने लोगों से अपील की है कि वे इस सुविधा का गलत फायदा न उठाएं. यहां ब्रॉडबैंड सुविधा पहले से चल रही थी. उन्होंने बताया कि बीते चार महीने में कोई अप्रिय घटना यहां नहीं घटी है और हालात पूरी तरह से सामान्य हो चुके हैं. इसे देखते हुए सेवाएं बहाल की गई हैं.

इंटरनेट बंद रहने के कारण आईटीआर भरने की अंतिम तारीख 31 जनवरी की गई थी
लद्दाख में इंटरनेट बंद रहने के कारण आयकर रिटर्न भरने के लिए बीते मंगलवार को अंतिम तारीख बढ़ाकर 31 जनवरी की गई थी.सीबीडीटी) ने मंगलवार को नव – गठित केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू – कश्मीर और लद्दाख में सभी तरह के आयकर रिटर्न (आईटीआर) जमा करने की अंतिम तारीख को एक बार फिर बढ़ाकर 31 जनवरी 2020 कर दिया था. बता दें कि सीबीडीटी ने 31 अक्टूबर को आईटीआर जमा करने की अंतिम तारीख को बढ़ाकर 30 नवंबर किया था. इससे पहले आयकर रिटर्न भरने की तिथि अगस्त अंत थी. बोर्ड ने आदेश में यह भी कहा कि वहां के 30 नवंबर की अंतिम तिथि के बाद भरे गए आईटीआर विवरणों को वैध माना जाएगा.