नई दिल्ली:  भारत चीन सीमा विवाद के बीच भारत सरकार की तरफ से आज बुधवार को एक बड़ा ऐलान किया गया. सरकार की तरफ से कहा गया है कि भारत की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए आने वाले दिनों में सरकार कुछ विश्वसनीय टेलीकॉम वेंडर्स की लिस्ट बनाएगी और उन्हीं के माध्यम से ही टेलीकॉम क्षेत्र से जुडे उपकरणों की खरीदारी की जाएगी. माना जा रहा है कि भारत सरकार इसी के माध्यम से कई वेंडर्स को ब्लैकलिस्ट कर सकती है. अगर ऐसा होता है तो भविष्य में चीन को एक बड़ा झटका लग सकता है. Also Read - Army Day 2021: आर्मी चीफ का चीन को स्पष्ट संदेश, कहा- भारतीय सेना के धैर्य की परीक्षा न ले कोई देश, हम...

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत सरकार ने देश की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए टेलीकॉम क्षेत्र के लिए नेशनल सिक्योरिटी डायरेक्टिव्स को मंजूरी दी है और अब इसी के माध्यम से उपकरणों की खरीदारी के लिए एक सप्लाई चैन बनाई जाएगी. उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि इसके तहत, टेलीकॉम उपकरणों की खरीदारी की सिक्योरिटी को बनाए रखने के लिए सरकार टेलीकॉम सर्विस प्रदाताओं के फायदे के लिए विश्वसनीय स्रोतों, विश्वसनीय उत्पादों की एक सूची भी तैयार की जाएगी. Also Read - चीन को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का करारा जवाब, बोले- 'अगर कोई महाशक्ति हमारे सम्मान को ठेस पहुंचाएगी तो...'

भारत सरकार का यह फैसला चीन के साथ सीमा विवाद के बीच आया है और हाल ही कुछ दिन पहले सरकार ने चीन के 43 और चीनी ऐप्स बैन किए थे. अब माना जा रहा है कि अगर भविष्य में टेलीकॉम वेंडर्स बैन होंगे तो चीन को झटका लग सकता है.