नई दिल्ली: उत्तर भारत में लगातार बढ़ रही जानलेवा गर्म के बीच भारतीय मौसम विभाग (मैट) ने बताया है कि अब तक देशभर के 25 प्रतिशत से भी कम हिस्से पर नॉर्मल या उससे ज्यादा बारिश हुई है. हालांकि राहत की बात ये है कि पिछले एक हफ्ते के दौरान मॉनसून की गति ठीक हुई है और यह अब ठीक रफ्तार से आगे बढ़ रहा है. मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर भारत और मध्य भारत जो अभी गर्मी की मार झेल रहे हैं यहां आने वाले दो तीन दिनों में बारिश होने की संभावना है. Also Read - चीन से तनाव पर कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद का बयान- 'नरेंद्र मोदी के भारत को कोई आंख नहीं दिखा सकता'

मैट के एडिशनल डायरेक्टर जनरल मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि नॉर्थवेस्ट इंडिया में प्री मॉनसून कंडिशन बन रही है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मॉनसून 29 जून तक पहुंचने की संभावना है. मौसम विभाग के मुताबिक उत्तर प्रदेश में बारिश की बाट जोह रहे लोगों को इस महीने के अंत तक राहत मिल सकती है. Also Read - भारत से LAC पर तनाव के बीच चीनी विदेश मंत्रालय का आया ये बयान

आगामी 26 से 28 जून के बीच मॉनसून के राज्य के पूर्वी हिस्सों में दाखिल होने का अनुमान है, इस साल प्रदेश में सामान्य वर्षा होने का अनुमान है. सामान्य बारिश का स्तर 835 मिलीमीटर होता है. देश के 4 रीजन में सिर्फ दक्षिण क्षेत्र में ही 29 प्रतिशत ज्यादा बारिश दर्ज की गई है जबकि ईस्ट और नॉर्थईस्ट में 29 प्रतिशत और नॉर्थवेस्ट भारत में 24 फीसदी बारिश में कमी दर्ज की गई है. Also Read - चीन से तनाव के बीच एयरफोर्स में शामिल हुआ तेजस का दूसरा स्क्वाड्रन, वायुसेना प्रमुख ने उड़ान भरकर दिखाया भारत का दम

देशभर में मैट के 36 सब डिविजन में 24 सब डिविजन में कम और बहुत कम बारिश दर्ज की गई है. माहपात्रा के मुताबिक आने वाले 48 घंटों में ओडिसा, पश्चिम बंगाल, गुजरात का कुछ हिस्सा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और पूर्वी उत्तर प्रदेश में मॉनसून अपनी दस्तक दे देगा.