नई दिल्ली: मौनसून ने रफ्तार पकड़ ली है. मौसम विभाग के अनुसार केरल के अलावा लक्षद्वीप, तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु के कुछ हिस्सों और पूर्वोत्तर राज्यों के अधिकांश हिस्सों में भी मानसून अगले 24 घंटों में दस्तक दे सकता है. केरल समेत दक्षिण के कई तटीय इलाकों में तेज बारिश हो रही है. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश का अनुमान लगाया है. उनका कहना है कि मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थिति अनुकूल बनी हुई है. मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली-NCR में 31 मई से लेकर एक जून तक आंधी के साथ बारिश की संभावना जताई गई है।

चक्रवाती तूफान ‘मोरा’ के चलते जल्दी आया मानसून 

मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान मोरा के चलते इस बार केरल के साथ ही मणिपुर, मिजोरम,अरुणाचल व नगालैंड में भी मानसून जल्दी पहुंच गया. आमतौर पर पूर्वोत्तर तट पर केरल से कुछ दिनों बाद ही मानसून पहुंचता है. यह 2011 के बाद सबसे जल्दी मानसून पहुंचने का रिकॉर्ड है। देश में मानसून एक जून को पहुंचता है. सन 2002 में पूर्वोत्तर राज्यों की ओर से मानसून दाखिल हुआ था। उसके कुछ दिनों बाद केरल के तट से टकराया था.

मानसून आपके शहर में इस दिन देगा दस्तक 

मौसम विभाग का कहना है कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में मानसून की पहली बारिश 8-10 जून के आस-पास होने का अनुमान है. अक्सर 18-20 जून के आसपास मुंबई पहुंचता है. छत्तीसगढ़ में दो दिन पहले 11 जून को मानसून पहुंचने का अनुमान, राजधानी रायपुर में 14 जून को पहुंच सकता है. वहीं, मध्य प्रदेश में एक दिन पहले 10 जून को पहुंचने का अनुमान है. पिछले दो साल से मानसून एक हफ्ते की देरी से पहुंच रहा था.