मुंबई: मुंबई में रात भर हुई भारी बारिश के चलते पश्चिमी रेलवे की उपनगरीय सेवाओं को रोक दिया गया है. रेलवे के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि चर्चगेट और बोरिवली के बीच सेवाएं सामान्य हैं. उन्होंने बताया कि सोमवार रात से 200 मिलिमीटर वर्षा दर्ज की गई है जिससे रेल की पटरियों में पानी भर गया है और यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेल सेवाएं तब तक रोक दी गईं हैं जब तक कि पटरियों पर पानी कम नहीं हो जाता. अधिकारी ने बताया कि मशीनों के जरिए पटरियों से पानी हटाने का काम किया जा रहा है. हालांकि रात भर बारिश होने के बावजूद मध्य रेलवे की उपनगरीय सेवाएं सभी मार्गों पर सामान्य रूप से चल रही हैं. Also Read - Mumbai Local Train Update: मुंबई में आम लोगो के लिए जल्द शुरू होगी लोकल ट्रेन सर्विस! मुख्यमंत्री ने की अहम बैठक

मध्य रेलवे ने ट्वीट कर बताया , मध्य रेलवे की सभी तीनों लाइनों – मुख्य , हार्बर और ट्रांस हार्बर पर ट्रेनें सामान्य रूप से चल रही हैं. उसने अपने यात्रियों का धन्यवाद करने के लिए भी ट्वीट किया. भारी बारिश के बावजूद सेवाएं जारी रखने के लिए कल कई यात्रियों ने मध्य रेलवे को संदेश और ट्वीट भेज कर धन्यवाद दिया था. Also Read - Kisan Andolan: मुंबई रैली में गरजे शरद पवार, पीएम मोदी से पूछा, क्या ये किसान पाकिस्तान के हैं?

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बृहस्पतिवार तक भारी और भीषण बारिश का अनुमान व्यक्त किया है. वहीं शहर में टिफिन सेवा देने वाले डब्बावालों ने जलभराव के मद्देनजर आज पूरे शहर में काम बंद रखने का फैसला किया है. मुंबई डिब्बवाला संगठन के प्रवक्ता सुभाष तालेकर ने कहा, ‘‘शहर भर में पानी भरा होने के कारण हमने आज टिफिन इकट्ठा नहीं किए. घुटनों तक भरे पानी के बीच साइकिल चलाना हमारे लोगों के लिए मुश्किल है.’ Also Read - Mumbai local Trains Update 25th January 2021: सभी के लिए कब खुलेगी मुंबई रेलवे? Central Railway ने कही ये बात

इस बीच कुछ प्राइवेट स्कूल बंद कर दिए गए हैं. हालांकि सरकार ने स्कूलों को लेकर अवकाश घोषित नहीं किया है. वहीं ऑफिस को लेकर भी सरकार की ओर से किसी तरह की एडवाइजरी जारी नहीं की गई है. सोमवार को स्कूल और कॉलेजों बंद रहे. भारतीय़ मौसम विभाग के मुताबिक, 10 से 13 जुलाई के बीच में महाराष्ट्र के मुंबई, ग्रेटर मुंबई, ठाणे, रायगढ़, पालघर आदि जगहों पर भारी बारिश होने की संभवाना है. मुंबई में भारी बारिश की वजह से वसाई से विरार के बीच चलने वाली ट्रेनों के परिचालन को अगली सूचना तक के लिए रद्द कर दिया गया है.

गौरतलब है कि सोमवार को बारिश की वजह से 90 ट्रेनों का परिचालन रद्द करना पड़ा था. पालघर जिले के वसई में जलभराव के कारण करीब 300 लोग अपने घरों में फंस गए. हालांकि यहां के लोगों ने जिला प्रशासन के इस जगह को खाली करने की अपील मानने से इंकार कर दिया. इसलिए इनके घरों के सामने एंबुलेंस खड़ी है.

सोमवार को इस मौसम में एक दिन में हुई यह सर्वाधिक बारिश है जिसके कारण कई सड़कों और गलियों में पानी भर गया. लोगों को घुटनों तक भरे पानी से गुजरना पड़ा. बारिश और कम दृश्यता के कारण वाहन सड़कों पर रेंगते रहे, सड़कों पर बने गड्ढों से समस्या और भी जटिल हो गयी है . कई स्कूलों ने छुट्टी घोषित कर दी और कई लोग दफ्तर नहीं गए. पश्चिम रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि कुछ रेलवे पटरियां पानी में डूब गए जिस पर रेल यातायात रोक दिया गया है . हालांकि, अन्य पटरियों पर सीमित गति से रेलगाड़ियां चलती रहीं.