मलप्पुरम (केरल): पुलिस ने उस 10 वर्षीय बच्ची की मां को कई घंटे की पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया जिसका यहां एक सिनेमा थिएटर में एक उद्योगपति ने कथित तौर पर यौन उत्पीड़न किया था. मामले की जांच कर रहे एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि महिला के खिलाफ पोक्सो कानून के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है.उन्होंने बताया कि महिला को मामले के बारे में पुलिस को जानकारी नहीं देने के लिए गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस ने रविवार रात 60 वर्षीय उद्योगपति मोइदीनकुट्टी को गिरफ्तार कर लिया था. एक मलयाली टेलीविजन चैनल ने आरोपी द्वारा 18 अप्रैल को इडपल के पास एक थिएटर में बच्ची के यौन उत्पीड़न संबंधी सीसीटीवी फुटेज का प्रसारण कर दिया था. इसके बाद उसे गिरफ्तार किया गया.

यौन उत्पीड़न के समय लड़की की मां व्यक्ति के बगल में बैठी हुई थी. हालांकि थिएटर के अधिकारियों ने सीसीटीवी फुटेज पुलिस को 28 अप्रैल को ही सौंप दिया था, लेकिन रविवार तक कोई कार्रवाई नहीं की गई. मोइदीनकुट्टी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354 और पोक्सो कानून के तहत मामला दर्ज किया गया.लड़की को एक निर्भया केंद्र स्थानांतरित कर दिया गया है.

मामले में केस दर्ज करने में देरी होने पर उप निरीक्षक के जी बेबी को रविवार रात निलंबित कर दिया गया. आरोपी को पकड़ने में विलंब को लेकर पुलिस की काफी आलोचना हो रही थी. केरल के विधानसभाध्यक्ष पी श्रीरामकृष्णन ने कहा कि पुलिस की यह एक ‘गंभीर चूक’ है कि उसने उत्पीड़न के बारे में जानकारी होने पर तत्काल कार्रवाई नहीं की.डीजीपी लोकनाथ बेहरा ने कहा कि मामले में आरोपी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.