नई दिल्ली: नई दिल्ली के विनोद नगर इलाके से एक मानवता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक मां ने अपनी 25 दिन की बच्ची को इसलिए कूड़ेदान में फेंक दिया क्योंकि वह उसके रोने से परेशान थी.  वहीं बच्ची को घायल अवस्था में जीटीबी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां उसकी मौत हो गई है. पुलिस ने यह जानकारी दी है. फिलहाल बच्ची की मां को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है और पूछताछ जारी है.Also Read - Sukanya Samriddhi Yojana: सुकन्या समृद्धि योजना-कम पैसे में ज्यादा मुनाफा, खाता खोलने से पहले जान लें ये नियम

आरोपी महिला की पहचान नेहा तिवारी (25) के रूप में हुई, जो मूल रूप से कानपुर की रहने वाली है. वह अपने ट्रैवल एजेंट पति सौरभ के साथ ईस्ट विनोद नगर में रहती है. Also Read - National Girl Child Day 2019: जानें क्‍यों खास होती हैं बेटियां...

Also Read - बेटी की मां बनीं साक्षी ने इस तरह एक्सप्रेस की खुशी, ये रखा नाम

बताया जा रहा है कूड़ेदान के पास से गुजरने वाले राहगीरों ने जब बच्ची के रोने की आवाज सुनी तो उन्होंने पुलिस को सूचित किया. इस घटना की जानकारी मिलने के बाद वहां लोगों का हुजूम लग गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने जब पूछताछ की तो पता चला कि इलाके की ही एक महिला ने अपनी बेटी नवजात बेची के खोने की बात कही है. इसके बाद पुलिस जब महिला के पास पहुंची और सख्ती से पूछताछ की तो मामले की पोल खुल गई.

बताया जा रहा है भीड़ में शामिल एक बच्चे ने पुलिस को बताया था कि उसने कूड़ेदान के पास महिला को बच्ची के साथ देखा था. जानकारी के मुताबिक बच्ची के सिर पर चोट आई थी, जिसके बाद गंभीर हालत में जीटीबी अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई.