भिंड: मध्य प्रदेश के भिंड की एक स्थानीय अदालत ने करीब तीन साल पहले एक ही परिवार की एक महिला एवं चार बच्चों सहित पांच व्यक्तियों की गला रेतकर हत्या करने के मामले में 29 वर्षीय व्यक्ति को फांसी की सजा सुनाई है. भिंड जिला एवं सत्र न्यायालय के द्वितीय अपर सत्र न्‍यायाधीश एम.एल. राठौर ने भिण्‍ड शहर के पुलिस थाना सिटी कोतवाली इलाके स्थित बीरेन्‍द्र नगर मोहल्‍ले में पांच व्यक्तियों की हत्‍या करने के मामले में अंकुर उर्फ नितेश दीक्षित को दोषी करार देते हुए मंगलवार को फांसी की सजा सुनाई.

लोक अभियोजक प्रवीण दीक्षित ने बताया कि अदालत ने अंकुर के इस कृत्य को दुर्लभतम मानते हुए उसे यह सजा सुनाई. उन्होंने बताया कि अंकुर ने 13-14 मई 2016 की दरमियानी रात को 32 वर्षीय महिला, उसकी 10 वर्षीय बेटी, दो भतीजियों 14 एवं 16 वर्ष तथा रिश्तेदार के 13 वर्षीय लड़के की एक-एक करके चाकू से गला रेतकर हत्‍या कर दी थी. इनके शव 14 मई की सुबह महिला के घर के दो कमरों में मिले थे.

दीक्षित ने बताया कि अंकुर का 32 वर्षीय मृतक महिला के साथ अवैध संबंध थे. घटना वाले दिन वह रात में इस महिला के घर पर उससे मिलने गया था. महिला ने घर में रह रहे चारों बच्‍चों को पहले ही रूप से नींद की गोलियां दे दी थीं. लेकिन अचानक 13 वर्षीय बालक जाग गया और उसने अंकुर और इस महिला को आपत्तिजनक हालत में देख लिया. इसके बाद अंकुर ने एक-एक करके सभी की गला रेतकर हत्‍या कर दी थी और वहां से फरार हो गया था. बाद में उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था.