मुंबई: सांसद मोहन डेलकर (Mohan Delkar) की आत्म हत्या मामले में पुलिस द्वारा जांच जारी है. गौरतलब है कि सांसद का शव सोमवार की सुबह मुंबई के सी ग्रीन होटल के पंखे से लटका मिला था. इस बाबत सांसद की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. पहली जांच के अनुसार गले में सांस के रूक जाने के कारण उनकी मौत हो गई है. लेकिन फॉरेंसिक रिपोर्ट का अभी इंतेजार किया जा रहा है ताकि मौत के सही आंकड़ों का पता लगाया जा सके. Also Read - MP Mohan Delkar ने ऑफिशियल लेटरपैड पर लिखा था 15 पेज का Suicide Note, मुंबई पुलिस फैमिली मेम्‍बर्स से करेगी पूछताछ

सांसद की आत्महत्या मामले में पुलिस को एक सुसाइड नोट मिली है. इस 6 पन्ने की सुसाइड नोट को लेकर संशय बना हुआ है. पुलिस इस एंगल की भी जांच कर रही है. इस सुसाईड नोट के मुताबिक मोहन डेलकर काफी वक्त से परेशान टल रहे थे. राजनीति में उपेक्षा के शिकार होने का जिक्र इस सुसाइड नोट में किया गया है. सुसाइड के पीछे कई लोगों को इस लेटर में जिम्मेदार ठहराया गया है. Also Read - घर पर पसरा था मौत का मातम, अचानक लौटा मरा हुआ शख्स, बोला- चाय पीने...

बता दें कि इस खत में तकरीबन 30-35 लोगों के नाम का जिक्र भी किया गया है. इस सुसाइड नोट में अलग अलग पार्टियों के नेताओं के नामों का भी जिक्र किया गया है. पुलिस सभी एंगल से मामले की जांच कर रही है ताकि सही निष्कर्ष तक पहुंचा जा सके. बता दें कि मोहन डेलकर 1989 से दादरा और नगर हवेली के लोकसभा क्षेत्र से सासद रहे हैं. साल 2009 में उन्होंने कांग्रेस पार्टी को ज्वाइन किया था. लेकिन साल 219 में उन्होंने लोकसभा चुनाव में पार्टी को छोड़ दिया और निर्दलीय चुनाव लड़ा और जीत भी गए थे. Also Read - Dimag Ka Dahi: जिसके पोस्टमार्टम की हो रही थी तैयारी, वह चौराहे पर पी रहा था चाय!