नई दिल्ली: ओडिशा का रहने वाला ये 30 साल का युवक मुक्तिकांत बिस्वाल है. वह पीएम नरेन्द्र मोदी के द्वारा किए वादे को उनसे पूरा कराने की मांग को लेकर अपने होमटाउन से दिल्ली की पैदल यात्रा पर आ रहा है. वह लगभग 1350 किमी पैदल चलकर आया, लेकिन वह दिल्ली से 200 किलोमीटर पहले ही आगरा में बीमार हो गया है और उसे बीच रास्ते में लोगों ने उसे आगरा के एक अस्पताल में भर्ती कराया है.

मुक्तिकांत ने बताया पीएम मोदी से उसका निवेदन है कि मेरे होमटाउन के इस्लाम जनरल हॉस्पिटल को सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल में अपग्रेड किया जाए और राउरकेला के ब्राह्मनी ब्रिज के निर्माण कार्य को पूरा किया जाए, जो लाइफलाइन है. मुक्तिकांत ने कहा कि मैंने 1350 किलोमीटर पैदल यात्रा की है और अभी मुझे 200 किलोमीटर की यात्रा और करना पड़ेगी.

30 साल के इस युवक मुक्तिकांत बिस्वाल ने पीएम मोदी से मिलकर उन्हें उनका किया हुआ वादा याद दिलाने के लिए 16 अप्रैल को राउरकेला से अपनी यात्रा शुरू की थी. मुक्तिकांत के मुताबिक, पीएम मोदी ने 2015 उसके होमटाउन में आमलोगों के सामने ये वादा किया था. मुक्तिकांत शुक्रवार को आगरा में एनएच-2 में बेहोश हो गया था, जिसे स्थानीय लोगों ने ले जाकर अस्पताल में भर्ती कराया था. (इनपुट-एजेंसी)