रामपुर, 22 नवम्बर (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश के रामपुर में समाजवादी पार्टी (सपा) के मुखिया मुलायम सिंह यादव ने के जन्मदिवस पर आयोजित दो दिवसीय समारोह में भव्य आयोजनों और 75 फीट का केक काटकर सपा प्रमुख भी गद्गद दिखे। वह रामपुर में मिले शाही सम्मान से काफी अभिभूत दिख रहे थे। मुलायम ने आजम खान का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि वह इस सम्मान के लिए जीवनभर आजम व रामपुर की जनता के ऋणी रहेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी की स्थापना के समय यह जगह पं. जनेश्वर मिश्र के लिए थी लेकिन अब उनका स्थान आजम ने ले लिया है।

मुलायम ने रामपुर में अपने 75वें जन्मदिन पर शनिवार को जौहर विश्वविद्यालय में एक जनसभा को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा, “मेरे जीवन का यह सबसे बड़ा सम्मान है, ऐसा सम्मान शायद कभी जीवन में मिले या न मिले। यह मेरे जीवन का बहुत बड़ा ऐतिहासिक दिन होगा।” मुलायम ने अपने संबोधन में कहा, “जन्मदिन का सपना तब पूरा होगा जब गरीबों को भोजन, कपड़ा, मकान जैसी मूलभूत आवश्यकताएं पूरी होंगी।”

उन्होंने अखिलेश सरकार से कहा कि यह बहुमत की सरकार है, कहीं से भी बजट लाकर गरीबों की मदद करें, गरीबों को सभी सुविधाएं दें और नौजवानों को रोजगार दें। साथ ही अखिलेश सरकार के मंत्रियों पर निशाना साधते हुए मुलायम ने कहा कि आप सभी बहुमत वाली सरकार के मंत्री हैं, कम से कम अपने गांव और इलाके का विकास करके तो दिखाओ।

बकौल मुलायम, “मैंने बहुत बड़ी-बड़ी चुनौतियों का सामना किया है। सपा की विशेषता रही है कि हमारे लोगों की कथनी और करनी में कभी अन्तर नहीं रहा। आज भी ऐसी ही नीतियों की जरूरत है। घोषणा नहीं काम करके दिखाना होगा।” उन्होंने कहा कि देश में गरीबों की हालत बहुत खराब है। आंकड़े के अनुसार करीब 27 से 28 करोड़ लोग गरीब हैं जिन्हें भोजन व कपड़ा नसीब नहीं होता। उत्तर प्रदेश की मिट्टी देश में सबसे बढ़िया है, यहां के लोगों का सम्मान और विश्वास बढ़े, यह सबकी जिम्मेदारी है।

इससे पूर्व रामपुर में मुलायम सिंह ने एक मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया। रामपुर में मिली शाही मेहमान नवाजी से अभिभूत मुलायम ने कहा कि जन्मदिन पर आजम ने जितना सम्मान दिया, उतना जीवन में किसी से नहीं मिला। मुलायम सिंह यादव अपना 75वां जन्मदिन आजम के साथ रामपुर में मना रहे हैं। शनिवार सुबह 11़.30 बजे उन्होंने जौहर विश्वविद्यालय में मेडिकल कलेज का शिलान्यास किया। इसके बाद ने गरीबों को साइकिलें बांटी।

इससे पूर्व प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश ने नेताजी के बारे में कहा कि चरखा दांव उनके सिवा और कोई नहीं जानता है। अब समाजवादियों को उनसे बुद्घि दांव भी सीखने की जरुरत है। मुख्यमंत्री ने कहा, “जो लोग इतिहास नहीं पढ़े हैं, वही बीच में खाई पैदा कर रहे हैं। समाजवादियों का वही धर्मनिरपेक्षता का रास्ता है। भरोसा दिलाना चाहते हैं कि कैसी भी परिस्थितियां होंगी, हम लोग धर्मनिरपेक्ष और समाजवादी ही रहेंगे।”

गौरतलब है कि शुक्रवार देर रात रामपुर में आयोजित कार्यक्रम में मशहूर सूफी गायक हंसराज हंस और कव्वाली गायक साबरी ब्रदर्स ने प्रस्तुति दी।