नई दिल्ली. श्रीलंका में तीन गिरजाघरों और तीन होटलों में एक साथ हुए विस्फोटों में 129 लोगों की मौत हो गई और करीब 300 लोग घायल हो गए हैं. पुलिस प्रवक्ता रूवन गुनासेकेरा ने बताया कि यह विस्फोट स्थानीय समयानुसार 8.45 मिनट पर ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान गिरजाघरों में हुआ.

पुलिस ने बताया कि हमले में तीन गिरजाघरों- कोलंबो के सेंट एंथनी, पश्चिमी तटीय शहर नेगेम्बो के सेंट सेबैस्टियन चर्च और बाटिकालोआ के एक चर्च को निशाना बनाया गया है. तीन अन्य विस्फोट पंच सितारा होटलों-शंगरीला, द सिनामोन ग्रांड और द किंग्सबरी में हुआ. कोलंबो नेशनल हॉस्पिटल के प्रवक्ता डॉक्टर समिंदि समराकून ने बताया कि 300 से ज्यादा लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

नजर बनाए हुए है भारत सरकार
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने रविवार को कहा कि भारत श्रीलंका में लगातार हुए छह विस्फोटों के बाद हालात पर करीब से नजर बनाए हुए है. स्वराज ने ट्वीट किया, ‘‘ मैं कोलंबो में भारतीय उच्चायुक्त के साथ लगातार सम्पर्क में हूं. हम स्थिति पर करीब से नजर बनाए हुए हैं. कोलंबो में श्रीलंकाई अधिकारियों ने बताया कि रविवार को तीन गिरजाघरों और तीन होटलों में हुए विस्फोटों में करीब 300 लोग घायल हो गए हैं. वहीं स्थानीय समाचार पत्र ‘संडे टाइम्स’ की खबर के अनुसार अभी तक 49 लोगों की मौत हो चुकी है.

रिपोर्ट के मुताबिक, पहला धमाका 8.45 बजे सुबह की प्रार्थना के दौरान हुआ. इसके बाद कुछ-कुछ देर पर 6 जगहों पर ब्लास्ट हुआ है. इसमें कोच्चिकेड चर्च, सेंट एंथोनी चर्च, शांगरी-ला होटल सहित कई जगह ब्लास्ट हुए.