मुबंईः मुंबई पुलिस ने मेडिकल छात्रा पायल तडवी को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में दो और फरार आरोपी महिला डॉक्टरों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. मुंबई पुलिस के प्रवक्ता डीसीपी मंजूनाथ शिंघे ने बताया कि आरोपियों – हेमा आहूजा और अंकिता खंडेलवाल को बुधवार तड़के पकड़ा गया.

आहूजा, खंडेलवाल के अलावे मंगलवार को गिरफ्तार हुई उनकी साथी भक्ति मेहर पर यहां स्थित सरकार द्वारा संचालित बीवाईएल नैयर हॉस्पिटल में गायनोकोलॉजी में स्नातकोत्तर की द्वितीय वर्ष की छात्रा तडवी की कथित रैगिंग, जातिवादी टिप्पणियां करने और मानसिक उत्पीड़न तथा पेशेवराना शोषण कर उसे आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप है. तडवी ने 22 मई को अपने छात्रावास के कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.

तीनों आरोपियों को महाराष्ट्र एसोसिएशन ऑफ रेजीडेंट डॉक्टर्स ने और उसके बाद बृह्नमुंबई नगर निगम द्वारा निलंबित कर दिया गया था. आरोपियों ने अग्रिम जमानत की याचिका दायर की थी जिस पर आज सुनवाई होनी है. तड़वी की मां अबेदा तडवी के वकील नितिन सतपुटे ने कहा कि अपनी बेटी को न्याय दिलाने के लिए आंदोलन कर रहीं अबेदा आरोपियों की अग्रिम जमानत याचिकाओं को चुनौती देने पर विचार कर रही हैं.

(इनपुट आईएएनएस)