मुंबई. बांबे के एक छात्रावास के छात्रों को एक पत्र भेजकर कहा गया कि वे मांसाहारी भोजन के लिए भोजनालय में अलग प्लेटों का प्रयोग करें. इस पत्र के सामने आने के बाद संस्थान में विवाद पैदा हो गया है. आईआईटी के छात्रावास के भोजनालय परिषद द्वारा भेजे गये ईमेल में कहा गया कि कई छात्रों ने मांग की है कि जो मांसाहारी भोजन खाते हैं उन्हें अलग थालियों का प्रयोग करना चाहिए.

दिल्ली विधानसभा: कपिल मिश्रा और बीजेपी विधायक मनजिंदर को सत्र बैठक से किया बाहर

दिल्ली विधानसभा: कपिल मिश्रा और बीजेपी विधायक मनजिंदर को सत्र बैठक से किया बाहर

बारह जनवरी के ईमेल में कहा गया, इसलिए, मांसाहारी भोजन करने वाले सभी छात्रों से आग्रह किया जाता है कि वे कृपया ट्रे जैसी उन प्लेटों का प्रयोग करें जो रात्रिभोज के समय विशेष रूप से मांसाहारी व्यंजनों के लिए ही हैं. कृपया मांसाहारी व्यंजनों के लिए मुख्य प्लेटों का प्रयोग नहीं किया जाए. गुस्से भरी प्रतिक्रियाएं आने के बाद भोजनालय परिषद ने सोमवार को एक बयान में कहा कि ईमेल केवल उस नियम को दोहराने के लिये भेजा गया, जो पहले से लागू है.

एक परिषद सदस्य ने कहा, कई वर्षों से, मांसाहारी भोजन अलग तरह की प्लेट में परोसा जा रहा है और हमने छात्रों से केवल नियम का पालन करने को कहा है. यह किसी को नाराज करने के लिए नहीं है. करीब 300 छात्रों वाले छात्रावास के एक बाशिंदे ने कहा कि सभी भोजनालयों में शाकाहारी और मांसाहारी भोजन के लिए अलग अलग प्लेटें हैं. एक छात्र ने कहा, इसलिए मुझे नहीं पता कि यह ईमेल भेजा ही क्यों गया है.