नई दिल्ली. 100 वर्षों में सबसे भीषण बाढ़ की त्रासदी झेल रहे देश के सुदूर दक्षिणी राज्य केरल में रहने वालों के लिए दुनिया के हर मंच से आवाजें उठ रही हैं. दुनिया के कई देश और उनकी सरकारें, गैर-सरकारी संगठन और अन्य संस्थाएं इस त्रासदी के समय में केरलवासियों के साथ खड़ी हो रही हैं. नेता, अभिनेता, गायक, साहित्यकार, संगीतकार, लेखक, समाजसेवियों के साथ-साथ आमजन भी केरलवासियों की सहायता के लिए अपनी तरफ से सहभागिता प्रदर्शित कर रहे हैं. ऐसे में ‘मोजार्ट ऑफ मद्रास’ के नाम से पहचाने जाने वाले ऑस्कर विजेता संगीतकार ए.आर. रहमान (AR Rahman) ने भी केरलवासियों के समर्थन में अपनी संवेदना प्रकट की है. रहमान ने कैलिफोर्निया में आयोजित अपने एक कंसर्ट के दौरान मंच पर गाते-गाते ही गाने के बोल बदल दिए और इसमें केरल को जोड़ दिया. दरअसल, रहमान स्टेज पर अपना मशहूर गाना ‘मुस्तफा…मुस्तफा…’ पेश कर रहे थे. इसी दौरान उन्होंने गाने के बोल में केरल की बाढ़ को लेकर कुछ शब्द जोड़े. उन्होंने ‘मुस्तफा…मुस्तफा…डोंट वरी मुस्तफा’ गाते हुए इस गाने को अलग अंदाज में गाया, ‘केरला… केरला…Dont Worry Kerala.’ रहमान के इस कदम की सोशल मीडिया पर सराहना की जा रही है. उनके फैन्स इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं. आप भी देखें यह Video. Also Read - AR Rahman का बड़ा खुलासा, कहा- बॉलीवुड 'गैंग' नहीं करने दे रहा काम, फैला रहा है अफवाह  

बॉलीवुड एक्टर्स ने भी जताई संवेदना

केरल में बाढ़ के कारण सरकार के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार अब तक 223 लोगों की जानें जा चुकी हैं. इसको लेकर बॉलीवुड के अभिनेताओं ने लोगों से केरलवासियों की सहायता करने की अपील की है. अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, जैक्लीन फर्नांडीज जैसे तमाम अभिनेताओं और अभिनेत्रियों ने इस भीषण त्रासदी को देखते हुए देशवासियों से केरल के लोगों के समर्थन में खड़े होने का आग्रह किया है. वहीं, आज केंद्रीय पर्यटन मंत्री के. अल्फोंस ने आम लोगों से अपील की है कि केरल अब बाढ़ की कहर से उबरने की कोशिश कर रहा है. राहत और पुनर्वास के काम में तेजी लाई जा रही है. यहां के निवासियों को अब पैकेज्ड फूड, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर, मैकेनिक आदि की जरूरत है. कृपया बाढ़ पीड़ितों के समर्थन में आने वाले लोग ऐसी सहायता करें जिससे पीड़ितों के पुनर्वास कार्य में मदद पहुंचे.

सामान्य के मुकाबले ढाई गुना ज्यादा बारिश

केरल में इस साल अगस्त के पहले 20 दिनों में सामान्य से ढाई गुना ज्यादा बारिश दर्ज की गई है. मौसम विभाग के विशेषज्ञों के अनुसार पिछले करीब 100 वर्षों में इतनी बारिश कभी नहीं हुई. राज्य के इडुक्की जिले में पिछले 111 वर्षों में सबसे ज्यादा बारिश दर्ज की गई है. इडुक्की में इस महीने में 1419 मिलीमीटर बारिश हुई है, जो कि एक रिकॉर्ड है. इससे पहले 1907 में यहां पर 1387 मिमी बारिश हुई थी. केरल में आई भीषण बाढ़ को लेकर केंद्र सरकार भी चिंतित है. केंद्र ने इस विनाशकारी बाढ़ को गंभीर प्रकृति की आपदा घोषित किया है. पीएम नरेंद्र मोदी ने केरल के बाढ़ पीड़ितों की सहायता और उनके पुनर्वास के लिए राज्य को 500 करोड़ रुपए की मदद दी है. राज्य में बाढ़ के कारण अभी तक करीब 11 लाख लोग प्रभावित हुए हैं, वहीं आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार 223 लोगों की जान जा चुकी है. बाढ़ से प्रभावित लोगों के लिए 3200 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं.