नई दिल्‍ली: कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्‍सवाद) के एक नेता ने दावा किया है कि केरल में इस्‍लामी आतंकवादी अब माओवादियों को प्रोत्‍साहित कर रहे हैं. उन्‍होंने कहा कि माओवादियों की ताकत मुस्लिम आतंकवादी संगठन हैं, जो उन्‍हें खाद और पानी देकर पाल रहे हैं. पुलिस को इस एंगल से जांच करना चाहिए. ये बयान सीपीआई-एम के कोझीकोड जिला सचिव पी मोहन्‍नन ने सोमवार को दिया है.

सीपीआई-एम के जिला सचिव पी मोहन्‍नन ने कहा, मुस्लिम आतंकियों और माओवादियों के बीच एक तरह की सहानुभूति है. उन्‍होंने आरोप लगाया कि नेशनल डेवलपमेंट फ्रंट (NDF) और इस्‍लामी कट्टरपंथी माओवादियों को समर्थन देने में बहुत उत्‍साहित हैं.

बता दें कि केरल में आईएसआई के समर्थन वाले कई मॉड्यूल का पहले खुलासा हो चुका है. वहीं, बीते दिनों पुलिस ने पलक्कड़ जिले में हाल की मुठभेड़ में चार माओवादियों के मारे जाने के बाद मुख्यमंत्री की सुरक्षा पहले कड़ी कर दी थी. यह धमकी ऐसे समय में आई, जब हाल ही में पलक्कड़ जिले में अट्टापड्डी के समीप जंगल में केरल की विशेष थंडरबोल्ट पुलिस के साथ मुठभेड़ में चार संदिग्ध माओवादी मारे गए थे.

वहीं, 2016 से कथित मुठभेड़ों में सात माओवादियों के मारे जाने को लेकर केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को ‘मुंहतोड़ जवाब’ देने की चेतावनी देने वाला एक धमकी भरा पत्र यहां के एक थाने में पहुंचा था. इसके बाद सीएम की सुरक्षा बढ़ाई गई थी. पत्र में कहा गया है, ”सात कॉमरेडों की हत्या करने को लेकर मुख्यमंत्री को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा”.