नई दिल्ली: आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री और तेलुगु देशम पार्टी के सुप्रीमो एन चंद्रबाबू नायडू ने 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी का मुकाबला करने के लिए अखिल भारतीय गठबंधन बनाने के अपनी कोशिशों के तहत गुरुवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार और नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला से मुलाकात की. इस मुलाकात के देश ही देश की राजधानी में सियासी पारा गर्मा गया है और अटकलों का कयासों का दौर चल पड़ा है.

आंध्र प्रदेश के सीएम नायडू ने शरद पवार और एनसी के फारूक अब्दुल्ला से मिलने के बाद कहा, हमने देश के भविष्य की रक्षा के लिए योजना बनाने के लिए दिल्ली में मिलने का फैसला किया है.

टीडीपी सूत्रों ने बताया कि नायडू दिल्‍ली में इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद से भी मिले और उन्होंने उनके साथ गैर बीजेपी दलों को साथ लाने की जरूरत के बारे में संक्षित चर्चा की. टीडीपी प्रमुख के इस मामले पर चर्चा के लिए बाद में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से भी मिलने की संभावना है. हफ्ते भर के अंदर ही उनकी यह दिल्ली की दूसरी यात्रा है.

पिछले ही हफ्ते नायडू ने कहा था कि राजनीतिक बाध्यता गैर भाजपा दलों को बीजेपी से मुकाबला करने के वास्ते तीसरा मोर्चा बनाने के लिए साथ आने को बाध्य करेगी.

आंध्रप्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने से केंद्र के इनकार के बाद इस साल के शुरू में राजग से अलग होने वाले पूर्व बीजेपी सहयोगी नायडू ने दिल्‍ली में बीते 27 अक्टूबर को बीएसपी सुप्रीमो मायावती, जम्मू कश्मीर नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला, और पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा से भेंट की थी.