शिरडीः महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष नाना पटोले ने रविवार को कहा कि शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा द्वारा गठित महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार ‘‘ब्रह्मा,, विष्णु, महेश’’ की तरह है. उन्होंने कहा कि यह सरकार 288 सदस्यों वाली विधानसभा में 170 विधायकों के समर्थन से अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी. Also Read - Janta Curfew News: कोरोना के बढ़ते मामले को को देखते हुए महाराष्ट्र के लातूर जिले में 27-28 फरवरी को 'जनता कर्फ्यू'

यहां साईं बाबा मंदिर में दर्शन करने के बाद शिरडी में पत्रकारों से बात करते हुए पटोले ने राज्य सरकार में शामिल न किए जाने को लेकर कई विधायकों में नाखुशी की खबरों पर कहा, ‘‘एक परिवार में, अगर चार बेटे हैं, तो कुछ खुश हो सकते हैं, कुछ नाखुश.’’ Also Read - Maharashtra COVID-19 Updates: महाराष्ट्र में कम नहीं हो रहा कोरोना का कहर, बीते 24 घंटे में करीब 9 हजार मामले, मुंबई में 1100 से ज्यादा नए केस

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे का दावा, शिवसेना के 56 में से 35 विधायक असंतुष्ट Also Read - Shirdi Sai Temple Darshan New Rules: शिरडी साई मंदिर में भक्तों के दर्शन को लेकर किया गया बड़ा बदलाव, यहां जानें नए नियम और समय

आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधान सभा चुनाव नतीजों में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी थी लेकिन उसकी सहयोगी पार्टी सीएम पद को लेकर जिद पर अड़ गई जिसके कारण दशको पुराना गठबंधन टूट गया. इसके बाद शिवसेना नें कांग्रेस पार्टी और राकांपा के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाई.

तीन दलों की सरकार बनने पर कई राजनीतिक पार्टियों ने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा था कि यह कुछ दिन की पार्टी है और जल्द ही टूटेगी. शिवसेना की भी मंशा पर कई सवाल उठाए थे. बता दें कि सीएम उद्धव ठाकरे ने हाल ही में 30 दिसंबर को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया था जिसमें 10 राज्य मंत्रियों को शामिल किया गया था.