शिरडीः महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष नाना पटोले ने रविवार को कहा कि शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा द्वारा गठित महाराष्ट्र विकास अघाड़ी सरकार ‘‘ब्रह्मा,, विष्णु, महेश’’ की तरह है. उन्होंने कहा कि यह सरकार 288 सदस्यों वाली विधानसभा में 170 विधायकों के समर्थन से अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी.

यहां साईं बाबा मंदिर में दर्शन करने के बाद शिरडी में पत्रकारों से बात करते हुए पटोले ने राज्य सरकार में शामिल न किए जाने को लेकर कई विधायकों में नाखुशी की खबरों पर कहा, ‘‘एक परिवार में, अगर चार बेटे हैं, तो कुछ खुश हो सकते हैं, कुछ नाखुश.’’

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे का दावा, शिवसेना के 56 में से 35 विधायक असंतुष्ट

आपको बता दें कि महाराष्ट्र विधान सभा चुनाव नतीजों में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी थी लेकिन उसकी सहयोगी पार्टी सीएम पद को लेकर जिद पर अड़ गई जिसके कारण दशको पुराना गठबंधन टूट गया. इसके बाद शिवसेना नें कांग्रेस पार्टी और राकांपा के साथ मिलकर महाराष्ट्र में सरकार बनाई.

तीन दलों की सरकार बनने पर कई राजनीतिक पार्टियों ने सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा था कि यह कुछ दिन की पार्टी है और जल्द ही टूटेगी. शिवसेना की भी मंशा पर कई सवाल उठाए थे. बता दें कि सीएम उद्धव ठाकरे ने हाल ही में 30 दिसंबर को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया था जिसमें 10 राज्य मंत्रियों को शामिल किया गया था.