Corona Virus Vaccine News Update: अगले कुछ दिनों में कोरोना वायरस वैक्सीन आने की संभावना के बीच आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक होने जा रही है. इस बैठक में पीएम मोदी के संसद के दोनों सदनों के विभिन्न दलों के नेताओं से बातचीत करने की संभावना हैं. संसदीय कार्य मंत्रालय बैठक के लिए समन्वय कर रहा है और सभी दलों को आमंत्रित किया गया है . Also Read - दिल्ली: कोरोना टीका लगवाने के बाद 52 स्वास्थ्यकर्मियों में दिखा प्रतिकूल प्रभाव, एक अस्पताल में भर्ती

सूत्रों ने बताया कि संसद के दोनों सदनों में पार्टियों के नेताओं को शुक्रवार सुबह साढ़े दस बजे होने वाली ऑनलाइन बैठक के लिए आमंत्रित किया गया है. प्रधानमंत्री मोदी इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे. कोविड-19 महामारी शुरू होने के बाद से दूसरी बार सरकार ने कोरोना वायरस से उत्पन्न हालात पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई है. वायरस के प्रसार को रोकने के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान 20 अप्रैल को पहली बैठक आयोजित हुई थी. Also Read - PM Modi Announced Startup Fund: देश में स्टार्ट-अप को मिलेगा बढ़ावा, PM मोदी ने की 1,000 करोड़ रुपये के फंड की घोषणा

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी सहित सरकार के शीर्ष मंत्रियों के बैठक में शामिल होने की उम्मीद है. सरकार द्वारा सांसदों को महामारी से निपटने के लिए उठाए गए विभिन्न कदमों के बारे में बताए जाने की संभावना है. टीका के विकास और वितरण के विषय पर भी बातचीत हो सकती है. Also Read - कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी को कहा धन्यवाद, बोले- गरीबों को मुफ्त में दी जाए वैक्सीन

कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और गुलाम नबी आजाद, तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय और डेरेक ओ ब्रायन, वाईएसआर कांग्रेस के मिधुन रेड्डी और विजयसाई रेड्डी समेत अन्य नेताओं के बैठक में हिस्सा लेने की संभावना है. मोदी संक्रमण की स्थिति और हालात की समीक्षा के लिए राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कई बार बैठकें कर चुके हैं .

प्रधानमंत्री ने कोविड-19 के टीके के विकास और विनिर्माण पर काम कर रही तीन टीमों के साथ सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बैठक की. प्रधानमंत्री ने शनिवार को अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे की दवा कंपनियों के परिसरों दौरा कर कोविड-19 टीके के विकास के लिए हो रहे कार्य की समीक्षा की थी.