Also Read - UP Election 2022: एक और विधायक ने BJP छोड़ी, सपा में शामिल, बोले- वहां किसी की नहीं चलती

Also Read - हमारी संस्कृति मिटाने की कोशिश हुई, अब नया भारत बनाना है, पराक्रम दिवस पर PM मोदी ने और क्या कहा, पढ़ें

बर्लिन, 13 अप्रैल | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को जर्मनी की राजधानी बर्लिन पहुंचे, जहां वह जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल से द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। मोदी इस दौरान बर्लिन के साइंस एंड टेक्नोलॉजी अकादमी का भी दौरा करेंगे और वहां रेलवे में हुए आधुनिकीकरण का जायजा लेंगे। मोदी तथा मर्केल ने रविवार को हनोवर मेले का उद्घाटन किया। यह दुनिया का सबसे बड़ा औद्योगिक मेला है। भारत इस साल इस मेले में साझेदार देश है। यह भी पढ़ें–जर्मन निवेशकों को भारत आने का मोदी का न्योता Also Read - UP Election: टिकट के लिए पति-पत्नी, बाप-बेटी तो कहीं भाई-भाई में टकराव, अमेठी राजघराने की दो रानियों में जंग

प्रधानमंत्री ने हनोवर में ‘मेक इन इंडिया’ पहल पर विशेष जोर दिया। मेले का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “हम भारत में व्यापार करना आसान बनाएंगे। हम आपकी प्रतिक्रिया जानने को सदा उत्सुक रहेंगे।” दोनों नेताओं ने सोमवार को मेले में संयुक्त तौर पर इंडिया पवेलियन का उद्घाटन किया।  इंडिया पवेलियन के उद्घाटन के बाद मोदी ने कहा, “भारत आइए, भारत के साथ अपनी साझेदारी बढ़ाइए और अपने व्यापार को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए भारत द्वारा उपलब्ध कराए गए मौकों का फायदा उठाइए।” यह भी पढ़ें–भारतीयों के कौशल विकास में जर्मनी प्रमुख साझेदार : मोदी

मोदी ने भारत-जर्मनी व्यापार सम्मेलन में यहां कहा, “भारत-जर्मनी के बीच साझेदारी बढ़नी चाहिए और बढ़ेगी। मेरी आपको सलाह है कि आप भारत आएं और भारत के विनियामक वातावरण में परिवर्तन से रूबरू हों।” तीन देशों की यात्रा के तीसरे तथा अंतिम चरण में मोदी मंगलवार को कनाडा पहुंचेंगे, जहां वह कनाडा के प्रधानमंत्री स्टीफन हार्पर के साथ बातचीत करेंगे।