नोट पर लगे बैन पर एक बार फिर से पीएम मोदी ने भरी हुंकार। गोवा के श्यामा प्रसाद मुखर्जी इनडोर स्टेडियम में राज्य सरकार द्वारा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा की हमने एक बड़ा सीक्रेट ऑपरेशन किया है और मै लोगो के दर्द को समझता हु लेकिन मुझे यकीन है की ईमानदार लोग मेरा साथ दे रहें है और देंगे। पीएम मोदी ने गोवा में आयोजित इस प्रोग्राम के दौरान कहा, जब हमने सरकार बनाया था तभी ही मैंने कालाधन पर कदम उठाया था। पीएम मोदी ने कहा की मैं अपने देश को अंधेरे में नही रखना चाहता हूँ और इस लिए मेरी कैबेनिट के पहले दिन ही मैंने एसआईटी गठित की किया था।Also Read - Goa: पूर्व मुख्‍यमंत्री रवि नाइक ने दिया कांग्रेस के व‍िधायक पद से इस्तीफा, BJP में हो सकते हैं शामिल

Also Read - क्या आज हो जाएगा आंदोलन खत्म करने का ऐलान? किसान संगठनों की अहम बैठक में होगा फैसला; जानें अपडेट्स

अपने उपर लगने वाले आरोपो पर पीएम मोदी ने भावुक होते कहा की देश के अंदर 70 साल की बिमारी है और उसे सिर्फ 17 महीनों में मिटाना है। मोदी ने भावुक होते हुए कहा की आज ”मैंने घर, परिवार, सबकुछ देश के लिए छोड़ा है। मैं कुर्सी के लिए पैदा नहीं हुआ। पीएम मोदी ने कहा की आज देश के अंदर हमारी सरकार है उसका कारण यह है की हमने करप्शन को मिटाने का वादा किया था। काले धन के मुद्दे पर उन्होंने कहा की मेरे दिमाग कई प्लान है ‘दुनिया में कहां-कहां ब्लैकमनी का काम चल रहा है, इसकी जांच हो रही है। यह भी पढ़ें: सोमवार को बैंक रहेंगे बंद, लोगो की बढ़ सकती है “मुसीबत” Also Read - Kisan Andolan: आंदोलन खत्म करने का जल्द हो सकता है ऐलान? संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में आगे की रणनीति पर चर्चा

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले दो साल में सवा लाख करोड़ रुपया खजाने में जमा हुआ है। आज भारत में 20 करोड़ से ज्यादा गरीब लोगों के खाते खोले गए हैं। अगर देश की भलाई जनता कष्ट सहने को तैयार है। अपने इस भाषण के दौरान पीएम मोदी ने कहा की जनता मुझे 30 दिसंबर तक मौका दे अगर उसके बाद मेरी गलती निकली तो जनता जो सजा देगी उसके मै तैयार हूं।

बता दें की पीएम मोदी गोवा में एक प्रोग्राम में पहुंचे थे जहां पर उन्होंने यहां दो प्रमुख बुनियादी ढांचागत परियोजनाओं की आधारशिला रखा और उसके बाद वह उत्तरी गोवा के पेरनेम में मोपा अंतर्राष्ट्रीय हवआईअड्डे का शिलान्यास कर और इलेक्ट्रॉनिक शहर की भी आधारशिला रखा।

https://youtu.be/VhMGxDAxATU