नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार दलितों के सशक्तिकरण के लिए काम कर रही है। उन्होंने कहा कि केवल औद्योगीकरण से दलितों को लाभ मिलेगा। दलित इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (डीआईसीसीआई) की तरफ से हुए दलित उद्यमियों के राष्ट्रीय सम्मेलन में मोदी ने कहा, “हमारी सरकार आपकी सरकार है। हम आपके सशक्तिकरण के लिए काम कर रहे हैं। आर्थिक रूप से सभी को साथ लेकर चलने पर हमारा मुख्य जोर है। हम रोजगार पैदा करने वालों को पैदा करना चाहते हैं, न कि रोजगार चाहने वालों को।” Also Read - मैरीटाइम इंडिया समिट 2021: पीएम मोदी ने कहा- भारत विकास कर रहा है, दुनिया के देश आएं और इसका हिस्सा बनें

Also Read - गुलाम नबी आज़ाद और पीएम मोदी की 'दोस्ती' पर कांग्रेस में बवाल शुरू, पुतला फूंका गया, कार्यकर्ता बोले...

यह भी पढ़े: इस तरह आप प्रधानमंत्री से कर सकते है बात Also Read - टीम इंडिया के कोच शास्त्री ने लगावाई कोविड-19 वैक्सीन, ट्विटर पर पोस्ट की तस्वीर

प्रधानमंत्री ने कहा, “हम सभी जानते हैं कि बाबा साहेब अंबेडकर हमारे संविधान के निर्माता हैं। लेकिन, बहुत से लोग नहीं जानते कि वह एक बहुत अच्छे अर्थशास्त्री भी थे। बाबा साहेब ने सही कहा था कि औद्योगीकरण से हमारे दलित भाइयों-बहनों को सर्वाधिक लाभ होगा।”

उन्होंने प्रथम पीढ़ी के उद्यमियों के लिए वेंचर कैपिटल फंड का भी जिक्र किया।

प्रधानमंत्री ने हाल ही के अपने कार्यक्रम ‘मन की बात’ का उल्लेख किया, जिसमें उन्होंने लोगों से केवल अधिकार की ही बातें न कर कर्तव्यों की बातें करने का भी आह्वान किया था।

उन्होंने कहा कि दलित उद्यमियों का यह सम्मेलन इस तथ्य को बता रहा है कि यहां सिर्फ कर्तव्यों की बात करने वाले ही नहीं हैं, बल्कि उन्हें सफलतापूर्वक लागू करने वाले भी मौजूद हैं।

प्रधानमंत्री ने इस मौके पर दलित उद्यमियों को पांच व्यापारिक उत्कृष्टता पुरस्कारों से नवाजा।