नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Corona Virus) के चलते लॉकडाउन का किसानों पर भी बड़ा असर हुआ है. किसानों को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इस बीच केंद्र सरकार किसानों को बड़ी राहत देने की तैयारी में है. इस बार किसानों को दिया जाने वाला तोहफा कर्ज माफ़ी के तौर पर हो सकता है. जानकारों के अनुसार, केंद्र सरकार किसानों का एक लाख करोड़ रुपए तक का क़र्ज़ माफ़ कर सकती है.Also Read - हमारी संस्कृति मिटाने की कोशिश हुई, अब नया भारत बनाना है, पराक्रम दिवस पर PM मोदी ने और क्या कहा, पढ़ें

ज़ी बिजनेस की खबर के अनुसार, मोदी सरकार का क़र्ज़ माफ़ी का प्लान है और ये क़र्ज़ माफ़ी कई चरणों में की जाएगी. सूत्रों के मुताबिक- पहले चरण में किसानों का 25 हज़ार करोड़ माफ़ किया जा सकता है. मौजूदा हालात को देखते किसानों की कर्ज माफ़ी का फैसला लिया जा सकता है. Also Read - IAS Cadre Rules: आईएएस कैडर के नियमों में बदलाव करने जा रही केंद्र सरकार, जानें क्या होंगे नए नियम?

बता दें कि इन दिनों लॉकडाउन के कारण सब्जियों और फलों की मांग काफी घट गई है. इस कारण किसानों को काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है. कई जगहों पर सब्जियां और फल सड़ कर फिक गए हैं. तो कई जगहों पर कीमत कम मिल रही है. आलू, प्याज, टमाटर सहित लगभग सभी सब्जियों की कीमतें काफी गिर गई हैं. कई सब्जियां तो 5-10 रुपए किलो में भी लेने वाला कोई नहीं है. ऐसी दिक्कतों को देखते हुए ही केंद्र सरकार ने क़र्ज़ माफ़ी की तैयारी की है. बता दें कि इससे पहले भी केंद्र सरकार किसानों के लिए कई बड़े फैसले ले चुकी है. आत्म निर्भर पैकेज के तहत किसानों के लिए कई घोषणाएं की गई थीं. Also Read - IAS Cadre Rules में बदलाव करने जा रही मोदी सरकार, जानें इससे क्या फर्क पड़ेगा, जिसका विरोध हो रहा है