Also Read - Corona Virus Vaccine Updates: कब आएगी कोरोना वैक्सीन, कीमत क्या होगी, PM मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ मीटिंग में बताया

Also Read - देश में सोशल मीडिया पर सबसे लोकप्रिय नेता बने हुए हैं पीएम मोदी, जानिए कितने रुपये की है ब्रैंड वैल्यू?

नई दिल्ली, 2 मार्च | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद भवन की कैंटीन में सोमवार को दोपहर का भोजन किया। इससे वहां मौजूद कर्मचारी और सांसद हैरत में पड़ गए। मोदी ने थोड़ा फ्रूट सलाद और शाकाहारी थाली ली तथा इसके लिए 29 रुपये भी चुकाए। प्रधानमंत्री अपराह्न करीब एक बजे संसद के कमरा संख्या-70 में मौजूद कैंटीन पहुंचे, उस वक्त वहां गहमागमी थी। यह भी पढ़ें–प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 5 मार्च को करेंगे मप्र का दौरा Also Read - भारत के लिए कौन सी कोरोना वैक्सीन चुनेगी सरकार? राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछे ये चार सवाल

कैंटीन के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि कैंटीन के प्रबंधक सहित सांसद प्रधानमंत्री की मौजूदगी से हैरान रहे गए और वह उस पंक्ति में बैठ गए जहां अन्य सांसद मौजूद थे।  बाद में केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल भी उनके पास की कुर्सी पर बैठ गए।  प्रधानमंत्री ने सबसे पहले एक ग्लास पानी मांग।  कैंटीन के प्रभारी बी.एल.पुरोहित तुरंत उनके पास पहुंचे और उनसे पूछा कि वह क्या खाना पसंद करेंगे।

कैंटीन के एक अधिकारी ने बताया, “प्रधानमंत्री ने कहा कि जो है वही खिलाइए, कुछ भी। अलग से इंतजाम करने की जरूरत नहीं है।” प्रधानमंत्री शाकाहारी हैं और उन्होंने सलाद लिया, इसके बाद शाकाहारी थाली ली, जिसमें सरसों का साग, आलू सब्जी, राजमा, चावल, रोटी और दही लिया।  अधिकारी ने बताया कि उनके भोजन का बिल 29 रुपये आया। मोदी ने 100 रुपये का नोट दिया और उन्हें 71 रुपये लौटाए गए। यह भी पढ़ें–बजट 2015: जेटली ने पूरी तरह गाया ‘मोदी राग’

मोदी ने बाद में कैंटीन की आंगतुक पुस्तिका में लिखा, “अन्नदाता सुखी भव।” पिछले 13 सालों से कैंटीन में काम कर रहे एक कर्मचारी ने बताया, “हम सभी हैरान रह गए। मैंने कभी भी प्रधानमंत्री को दोपहर के खाने पर यहां आते नहीं देखा।”

संसद का कैंटीन भारतीय रेल संचालत करता है, जहां देश में सबसे अधिक सब्सिडी वाला खाना परोसा जाता है। यहां सांसदों, संसद के कर्मचारियों और पत्रकारों के लिए खाने की व्यवस्था है।