उड़ी हमले के बाद पहली बार बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पाकिस्तान पर खूब बरसे। उन्होंने खुलकर पाकिस्तान को आंतकवादी देश का नाम दिया। उन्होंने सेना पर गर्व प्रकट किया। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि पाकिस्तान युद्ध के लिए उतावला रहता है इसलिए मैं आज कह देना चाहता हूँ आज दिल्ली में ऐसी सरकार जो आपके यु्द्ध की चुनौती को स्वीकार करता है। लेकिन यह लड़ाई गरीबी, बेरोजगारी और अशिक्षा के लिए हो। उन्होंने सीधे तौर पर पाकिस्तान की जनता को संबोधित किया। उड़ी हमले के करीब 8 दिन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बोला और क्या खूब बोला। केरल के कोझाकोड़ में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के प्रमुख अंश… Also Read - Bhiwandi Building Collapses: राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने भिवंडी में इमारत गिरने से हुई 10 लोगों की मौत पर दुख जताया

Also Read - राज्यसभा में दोनों कृषि विधेयक पास, पीएम मोदी बोले- अन्नदाताओं को आजादी मिली, जारी रहेगी सरकारी खरीद

आतंकवाद मानवता का दुश्मन है। इसलिए पूरी दुनिया की मानवतावादी ताकतों को मिलकर आतंकवाद के खिलाफ लड़ना होगा। भारत न कभी आतंकवाद के खिलाफ झुका है और न छुकेगा। हम आतंकवाद का समूल नाश करके रहेंगे। हमारे जम्मू कश्मीर के उड़ी में प़ड़ोसी देश के भेजे हुए आतंकवादियोंं के हमले में हमारे 18 जवान शहीद हो गए।  आतंकवादी कान खोलकर सुन लें। ये देश इस बात को कभी भूलने वाला नहीं है। उन्हें सजा भुगतनी होगी। पिछले कुछ समय में 17 बार घुसपैठ की कोशिश की गई। लेकिन हमारी सेना ने इन फिदायीन आतंकवादियों को हमारी सेना के जवानों ने मौत के घाट उतार दिया। Also Read - पीएम मोदी कोरोना के हालात पर 23 सितंबर को राज्यों के मुख्यमंत्रियों से करेंगे बातचीत! क्या फिर से लगेगा लॉकडाउन?

यह भी पढेंः पाकिस्तान से कई गुना मजबूत है भारत की सैन्य ताकत, युद्ध हुआ तो हो जाएगा पाक का सफाया

मैं आज यहाँ से सीधे तौर पर पाकिस्तान की आवाम से बात करना चाहता हूँ। मुझे वहाँ कि हुकूमत से कोई उम्मीद नहीं है। मैं पाकिस्तान की आवाम से बात करना चाहता हूँ। पाकिस्तान की आवाम को याद रहे कि 1947 से पहले उनके पूर्वज भी इसी हिंदुस्तान की मिट्टी को अपनी मातृभूमि मानते थे। पाकिस्तान की आवाम को अपनी हुकूमत से पूछना चाहिए कि पाकिस्तान के पास जो क्षेत्र हैं पहले उसे ठीक से सँभालो फिर कश्मीर की बात करना। सेना की कुर्बानी को किया याद पाकिस्तान के हुक्मरान सुन लें। हमारे 18 जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा। पाकिस्तान को अकेला रहने के लिए मजबूर कर देंगे। वो दिन दूर नहीं होगा जब पाकिस्तान की जनता अपने हुक्मरानों के खिलाफ ही खड़ी हो जाएगी।

यह भी पढेंः शर्मनाक!! पाकिस्तान ने उरी अटैक के लिए कश्मीर के लोगों को ठहराया ज़िम्मेदार

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत में कहा कि केरल का नाम आते ही मन में श्रृद्धा और पवित्रता का भाव पैदा होता है। देश भर में जहाँ कहीं भी केरल के लोग रहते हैं उन्हें सम्मान की नजर से देखा जाता है। यह केरल के संस्कार के कारण ही संभव है। आज से 50 साल पहले पंडित दीनदयाल जी को यहाँ पर जिम्मेदारी सौंपी गई थी। मुझे नहीं लगता कि उस वक्त किसी अखबार के किसी कोने में यह खबर छपी होगी। 50 साल के अंदर यह दल देश की सबसे बड़ी पार्टी बन गई। आज हम उस पूर्व संध्या पर मिल रहे हैं जब कल से भारत पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की जन्मशती मना रहा है।