मैसूर: कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टियों ने एक दूसरे पर हमला करना शुरू कर दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को जहां भ्रष्टाचार को लेकर कर्नाटक की सिद्धरमैया सरकार पर हमला बोला. वहीं आज सिद्धरमैया ने पीएम मोदी पर पलटवार करते हुए उन्हें प्रधानमंत्री के रूप में एक अनफिट पीएम बताया. सिद्धरमैया ने कहा कि पीएम मोदी एक प्रधानमंत्री की तरह नहीं बोल रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि राज्य और केंद्र में कई सारे मसले हैं लेकिन पीएम इन सब पर अपना राय सार्वजनिक तौर पर नहीं रखते. वो राजनीति से प्रेरित गैर जिम्मेदार बयान दे रहे हैं साथ ही प्रधानमंत्री बने रहने के लिए अयोग्य हैं. यह बयान कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा भ्रष्टाचार के हमले के जवाब में दिया है. Also Read - देश की आजादी के 75वें वर्ष को मनाने के लिए पीएम मोदी की अध्यक्षता में समिति गठित, सोनिया, ममता और मुलायम सिंह भी शामिल

प्रधानमंत्री ने भी बोला था सिद्धरमैया सरकार पर हमला
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को भ्रष्टाचार को लेकर कर्नाटक की सिद्धरमैया सरकार पर हमला बोला था. उन्होंने कहा कि सिद्धरमैया सरकार के शासन में हर रोज नए घोटाले और भ्रष्टाचार के आरोप सामने आ रहे हैं. मोदी ने यहां भाजपा की एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हाल में जब उन्होंने सिद्धरमैया सरकार पर 10 प्रतिशत कमीशन का आरोप लगाया तो उन्हें बहुत से लोगों के फोन आए जिन्होंने कहा कि उनके पास सही सूचना नहीं है और दावा किया कि यह कमीशन कहीं ज्यादा है. Also Read - New Education Policy: पीएम मोदी ने कहा- प्री-नर्सरी से पीएचडी तक जल्द ही लागू हों नई शिक्षा नीति के नियम

चुनावी राज्य कर्नाटक में इस महीने अपनी दूसरी रैली में मोदी ने रैली में मौजूद लोगों से पूछा कि राज्य को कमीशन सरकार चाहिए या मिशन सरकार चाहिए. मोदी ने कहा, कर्नाटक के किसी न किसी हिस्से में हर दिन, एक नया घोटाला, नया भ्रष्टाचार, नया आरोप उनके एक या दूसरे नेता पर लगता है, या उनके किसी मंत्री या सरकार के किसी कार्यक्रम के खिलाफ लगता है. उन्होंने कहा, मैं कर्नाटक के लोगों के गुस्से को समझ सकता हूं. उन्होंने जोर देकर कहा कि कर्नाटक को मिशन सरकार चाहिए न कि कमीशन सरकार. Also Read - WB Assembly Elections 2021: दिलीप घोष ने किया कंफर्म, सौरव गांगुली भाजपा में नहीं हो रहे शामिल