Also Read - New Education Policy: राष्ट्रीय शिक्षा नीति के एक साल पूरा होने के अवसर पर प्रधानमंत्री करेंगे कार्यक्रम को संबोधित

Also Read - दिलीप घोष बोले- ममता बनर्जी 'भीख' के लिए PM मोदी से मिलना चाहती हैं, TMC ने कहा- जाहिलों जैसी बात न करें

वैंकूवर, 17 अप्रैल | भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों की यात्रा के समापन पर गुरुवार को स्वदेश रवाना हुए। मोदी ने नौ अप्रैल को फ्रांस से अपने नौ दिवसीय यात्रा की शुरुआत की थी। इसके बाद वह जर्मनी और फिर कनाडा पहुंचे थे। उन्होंने कनाडा के ओटावा, टोरंटो और वैंकूवर शहर का दौरा किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वैंकूवर पहुंचने के बाद अपने कनाडाई समकक्ष स्टीफन हार्पर के साथ यहां एक गुरुद्वारे पहुंचे। वैंकूवर के दक्षिणी छोर पर स्थित खालसा दीवान सोसायटीज सिख गुरुद्वारा के बाहर बड़ी संख्या में मोदी समर्थक एकत्रित हुए। यह गुरुद्वारा 100 साल से भी ज्यादा पुराना है। ऐतिहासिक सिख सोसायटी के अध्यक्ष ने कहा कि मोदी इस गुरुद्वारे का दौरा करने वाले भारत के तीसरे प्रधानमंत्री हैं। इससे पूर्व देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने वर्ष 1949 में और इंदिरा गांधी ने 42 साल पहले इसका दौरा किया था। Also Read - महाराष्ट्र में भारी बारिश से आया बाढ़, रेल व सड़क यातायात हुए बाधित, PM मोदी ने जताया मदद का भरोसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कनाडा यात्रा से भारत में कनाडाई निवेश को बढ़ावा मिलेगा। कनाडा की सबसे बड़ी म्युचुअल फंड कंपनी एक्सेल फंड्स ने यह बात कही है। एक्सेल फंड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) भारतवंशी भीम डी. असधीर ने कहा कि भारतीय प्रधानमंत्री की यात्रा भारत-कनाडा निवेश संबंधों के लिए मील का नई पत्थर साबित होगी। यह भी पढ़ें–कनाडा में मोदी के स्वागत को तैयार भारतीय समुदाय

हाल ही में भारत की व्यावसायिक यात्रा से लौटे असधीर ने कहा, “विश्व की तेजी से उभर रही अर्थव्यवस्था वाला देश होने के नाते भारत हर लिहाज से विदेशी निवेशकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन रहा है।” उन्होंने कहा, “बीते साल मई महीने में प्रधानमंत्री का पदभार संभालने के बाद से मोदी की कई बड़े देशों के साथ निवेश संबंध स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका रही है, जिनमें अमेरिका, जापान, चीन और फ्रांस जैसे देश शामिल हैं। कनाडा के भी इस समूह में शामिल होने की संभावना है।”

उन्होंने कहा कि नए संस्थागत एवं नियामक सुधार एवं मजबूत मुद्रा आने वाले वर्षो में भारत के लिए वरदान साबित होंगे। असधीर ने एक्सेल इंडिया फंड की सफलता को कनाडाई निवेशकों की भारत में निवेश में रुचि का संकेत बताते हुए कहा, “हमें उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा से कनाडा में इस बारे में जागरूकता आएगी कि भारत आधुनिक समय में निवेश के लिए सर्वश्रेष्ठ स्थलों में एक है।”

उनके अनुसार, भारत में बड़ी संख्या में मौजूद शिक्षित मानव संसाधन और प्रगतिशील, आधुनिक मध्यम वर्ग का विस्तार इसे निवेश के लिए अनुकूल देश बनाता है। भारत में एक्सेल इंडिया फंड के प्रबंधक बिड़ला सन लाइफ एसेट मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड है।