अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मां हीराबेन ने अपनी बचत में से देश में कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए बनाए गए विशेष कोष में मंगलवार को 25 हजार रुपए दान किए. उन्होंने कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए बरसों से बचाकर रखे गए ये रुपए दान किए हैं. Also Read - Indian Railway News: आज फिर से शुरू की जा रही हैं शताब्दी समेत 50 स्पेशल ट्रेनें, जानें- किस राज्य के यात्रियों को होगा सबसे ज्यादा फायदा?

प्रधानमंत्री के छोटे भाई पंकज मोदी ने कहा कि हीराबेन ने केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए पीएम-केयर्स कोष में पैसे जमा किए. Also Read - दिल्ली में कोविड-19 के 124 नए मामले, सात लोगों की मौत; केजरीवाल ने शुरू किया योग, मेडिटेशन में एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स

पंकज मोदी ने कहा, ‘इससे पहले उन्होंने जम्मू-कश्मीर में विनाशकारी बाढ़ के बाद राहत अभियानों के लिए 5 हजार रुपए दान किये थे. अब उन्होंने कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए बरसों से बचाकर रखे गए 25 हजार रुपए दान किए हैं.’ Also Read - केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, 'कोरोना से मौत पर परिवार को मुआवजा नहीं दे सकते, वित्तीय बूते के बाहर है'

बता दें कि हीराबेन मोदी पंकज मोदी के साथ गांधीनगर के निकट रायसण गांव में रहती हैं.

पीएम केयर्स फंड में योगदान के लिए प्रधानमंत्री ने लोगों का आभार जताया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में योगदान के लिये गठित लिए ‘आपात स्थिति प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष (पीएम केयर्स फंड)’ में योगदान के लिए उद्योगपतियों, खिलाड़ियों, फिल्मी कलाकारों, सार्वजिनक क्षेत्र की कंपनियों, मीडियाकर्मियों और आम लोगों का आभार प्रकट करते हुए मंगलवार को कहा कि कोरोना से युद्ध में देश की यही सामूहिक ताकत जीत दिलाएगी.

यही सामूहिक ताकत है, जो इस लड़ाई में जीत दिलाएगी
मोदी ने अपने ट्वीट में कहा, ”पीएम केयर्स फंड में समाज के हर वर्ग के लोगों ने योगदान दिया है . लोगों ने अपनी गाढ़ी कमाई का पैसा कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में तेजी लाने के लिए दिया है.” उन्होंने कहा, ” कोरोना से लड़ने के लिए हर क्षेत्र के लोग सहयोग के लिए आगे आ रहे हैं. देश की यही सामूहिक ताकत है, जो इस लड़ाई में जीत दिलाएगी.”