नई दिल्ली. इस साल के अंत में मध्यप्रदेश चुनाव होने हैं. इसके लिए बीजेपी और कांग्रेस ने पूरी जोरआजमाइश शुरू कर दी है. राज्य में लगातार तीन बार से बीजेपी की सरकार बन रही है. ऐसे में कांग्रेस ने इस बार पूरी ताकत लगाने के क्रम में वरिष्ठ नेता कमलनाथ को प्रदेश अध्यक्ष तो ज्योतिरादित्य सिंधिया को चुनाव प्रचार समिति का अध्यक्ष बनाया है. वहीं, राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को कोऑर्डिनेश कमिटा का चीफ बनाया गया है. लेकिन, एक सर्वे पर छपी रिपोर्ट सेल्व गोल की तस्वीर बयां कर रही है. Also Read - अनिल अंबानी का बड़ा फैसला, कांग्रेस व नेशनल हेराल्ड के खिलाफ सभी केस लेंगे वापस

अंग्रेजी वेबसाइट नेशनल हेराल्ड पर एक सर्वे के हवाले से कहा गया है कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस बीजेपी से काफी पीछे है. इसमें ये भी कहा गया है कि बसपा से गठबंधन के बाद भी राज्य में कांग्रेस की सरकार बनती नहीं दिख रही है. बता दें कि नेशनल हेराल्ड को कांग्रेस समर्थित अखबार माना जाता है. इस अखबार को जवाहर लाल नेहरू ने शूरू किया था, जो बाद में बंद हो गया था. इसे पिछले ही साल दोबारा शुरू किया गया है. Also Read - इनकम टैक्‍स असेसमेंट र‍िट: SC सोनिया और राहुल गांधी की अपीलों पर अगस्‍त में करेगा सुनवाई

तमिलनाडू बेस्ड न्यूज मीडिया आउटलेट ‘स्पीक मीडिया नेटवर्क’ ने मध्यप्रदेश चुनाव को लेकर एक प्री पोल सर्वे कराया है. इसे 27 जुलाई को जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि कांग्रेस की बीएसपी से गठबंधन के बाद भी वहां बीजेपी की सरकार बनने जा रही है. Also Read - नेशनल हेराल्ड को खाली करना पड़ेगा ITO स्थित दफ्तर, हाईकोर्ट ने दिया ये फैसला

इस सर्वे में फर्स्ट सिनेरियो में बताया गया है कि कांग्रेस और बीएसपी अलग-अलग चुनाव में उतरते हैं तो बीजेपी 147 सीट जीत सकती है. वहीं, कांग्रेस को सिर्फ 73 सीटों पर संतोष करना पड़ेगा. वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस और बीएसपी साथ चुनाव में उतरते हैं तो भी इस गठबंधन को 103 सीटें ही मिलेंगी. वहीं बीजेपी 126 सीटों के साथ सरकार बना लेगी.

इसी तरह अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए भी सर्व कराए गए हैं. इसमें कहा गया है कि कांग्रेस-बीएसपी गठबंधन का असर यहां देखने को मिलेगा. इससे बीजेपी की सीटें 26 से घटकर 16 पर आ जाएंगी.कांग्रेस नेता अभय दुबे ने कहा, नेशनल हेराल्‍ड में प्रकाशित सर्वे हमारा नहीं है. मध्‍यप्रदेश में इस बार कांग्रेस की बारी है.