नई दिल्ली: दंतेवाड़ा में हुए नक्सली हमले बीजेपी विधायक, ड्राइवर व तीन जवानों ने जान गंवाई है. लोकसभा चुनाव से पहले ये बड़ा नक्सली हमला है. जिस इलाके में हमला हुआ है वहां दो दिन बाद पहले चरण में मतदान होना है. हमले के बाद सामने आ रहा है कि क्या विधायक की जान पुलिस की बात नहीं मानने पर गई है? दंतेवाड़ा पुलिस के एसपी अभिषेक पल्लव ने घटना के बाद मीडिया से बात करते हुए घटना की जानकारी दी. उन्होंने कहा कि बीजेपी विधायक भीमा मंडावी को पुलिस ने कहा था कि वह संवेदनशील इलाके में विजिट न करें. उन्हें पुलिस ने जाने से मना किया था. इसके बाद भी वह अपना काफिला लेकर वहां गए. इसके बाद ये घटना सामने आ गई. उन्होंने बताया कि घटना के बाद नक्सलियों और सुरक्षा कर्मियों के बीच आधे घंटे तक फायरिंग भी हुई थी.

पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि
नक्सली हमले में जान गंवाने वालों को पीएम नरेंद्र मोदी ने श्रद्धांजलि दी है. पीएम मोदी ने ट्वीट में बीजेपी विधायक भीमा मंडावी का ज़िक्र करते हुए कहा कि वह बीजेपी के समर्पित कार्यकर्ता थे. इसके साथ ही पीएम ने जवानों को भी श्रद्धांजलि दी.

चुनाव से पहले बड़ा नक्सली हमला: बीजेपी MLA, 3 जवानों की गई जान, सरकार ने बुलाई हाईलेवल मीटिंग

सरकार ने बुलाई हाई लेवल मीटिंग
छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले में हुए नक्सली हमले में बीजेपी के विधायक भीमा मंडावी, उनके ड्राइवर के मारे जाने के साथ ही तीन जवानों की शहादत की पुष्टि हो गई है. आधिकारिक सूत्रों ने अब तक पांच लोगों की जान जाने की पुष्टि की है. बारूदी सुरंग में विस्फोट तब कराया गया, जब भारतीय जनता पार्टी के विधायक अपने काफिले के साथ यहां से गुजर रहे थे. घटना में शुरुआत में तीन लोगों के घायल होने की जानकारी आ रही थी, लेकिन इलाके में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल यानी सीआरपीएफ ने घटना के कुछ देर के बाद हताहतों के बारे में जानकारी दी. लोकसभा चुनाव से पहले ये बड़ा नक्सली हमला है. बता दें कि राज्य की कांग्रेस सरकार में सीएम भूपेश बघेल ने घटना के बाद हाई लेवल मीटिंग बुलाई है.

जबरदस्त था हमला, उड़े वहां के परखच्चे
राज्य के नक्सल विरोधी अभियान के महानिदेशक गिरधारी नायक ने बताया, ‘‘जिले के बचेली क्षेत्र में श्यामगिरी के करीब नक्सलियों ने बारूदी सुरंग में विस्फोट किया है. इस घटना में दंतेवाड़ा विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के विधायक भीमा मंडावी की कार के परखच्चे उड़ गए. नक्सलियों ने विस्फोट के बाद गोलीबारी भी की है.’’ घटना के बाद जारी मीडिया की तस्वीरों में साफ दिख रहा है कि हमला जबर्दस्त था. बम धमाके से विधायक के काफिले में शामिल वाहन के भी परखच्चे उड़ गए. जहां विस्फोट हुआम वहां आसपास की सड़क भी क्षतिग्रस्त हो गई है.