पटना. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता और कटिहार से सांसद तारिक अनवर ने शुक्रवार को पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. तारिक अनवर ने पार्टी अध्यक्ष शरद पवार द्वारा राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पक्ष में बयान देने पर यह कदम उठाया है.Also Read - Nawab Malik का दावा - अज्ञात NCB अधिकारी ने भेजी चिट्ठी, 'लोगों को झूठे केस में फंसाया जा रहा है'

अनवर ने आईएएनएस  को फोन पर बताया कि उन्होंने पार्टी और लोकसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने कहा, प्रधानमंत्री मोदी पूरी तरह राफेल सौदे में लिप्त हैं और वे अभी तक अपने को पाक साफ साबित करने में असफल रहे हैं. फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति द्वारा इस संबंध में दिए गए बयान से राफेल डील में घोटाले की पुष्टि होती है. Also Read - समीर वानखेड़े ने मुंबई पुलिस कमिश्‍नर को लिखा पत्र, मुझे गलत उद्देश्यों से फंसाने के लिए कोई कानूनी कार्रवाई न की जाए

Also Read - नवाब मलिक ने फिर समीर वानखेड़े पर हमला बोला- जब से NCB में आए हैं, वे पहले ही दिन से फिल्म इंडस्‍ट्री को टारगेट कर रहे

पवार से पूरी तरह असहमत
उन्होंने कहा कि ऐसे में पार्टी अध्यक्ष शरद पवार द्वारा प्रधानमंत्री के बचाव में आने से वे पूरी तरह असहमत हैं. यह पूछने पर कि वह किस पार्टी में जाएंगे? इस पर उन्होंने कहा, अभी इस मामले में कोई फैसला नहीं किया है. कार्यकर्ताओं से राय मशविरे के बाद आगे की रणनीति बनाई जाएगी.

पवार ने ये कहा था
बता दें कि एक चैनल को दिए इंटरव्यू में शरद पवार ने कहा था कि उन्हें नहीं लगता है कि लोगों को राफेल सौदे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा पर कोई शक है. विमान से जुड़ी तकनीकी जानकारियां साझा करने की विपक्ष की मांग में कोई तुक भी नहीं है. इसके बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर उन्हें धन्यवाद दिया था.