नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बढ़ते प्रदूषण स्तर के चलते सांस लेना दूभर हो गया है. शहर में प्रदूषण के स्तर को घटाने के लिए दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने सरकारी संस्था एनबीसीसी से प्रगति मैदान के उसके परियोजना स्थल पर सभी निर्माण एवं तोड़-फोड़ की गतिविधियों को “तत्काल रोकने” को कहा. एसडीएमसी ने कहा कि शहर में लगातार गिर रही वायु गुणवत्ता को देखते हुए उसने पिछले एक हफ्ते में कई कदम उठाए हैं.

हवा की गुणवत्ता बेहद खराब
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने कहा है कि वायु प्रदूषण को रोकने के लिए सोमवार से आपात कार्य योजना लागू की जाएगी. हवा की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में जाने का संकेत मिलने के बीच विभिन्न कदम उठाए जाने की योजना है. नगर निकाय ने एक बयान में कहा, “एसडीएमसी ने खुले इलाकों में पानी के छिड़काव के लिए रविवार को 22 अतिरिक्त पानी की टंकियों से काम लिया जिसके साथ ही ऐसे टैंकरों की संख्या 62 पहुंच गई है.

दिल्ली की हवा हो रही है खराब, आज से आपात योजना की होगी शुरुआत

एनबीसीसी द्वारा एसडीएमसी की ओर से एनजीटी के दिशा-निर्देशों का अनुपालन करने का आग्रह नजरअंदाज करने के बाद उससे प्रगति मैदान में सभी निर्माण एवं तोड़-फोड़ के कार्य तत्काल रोकने को कहा गया है.” एनबीसीसी प्रगति मैदान में विश्व स्तरीय सम्मेलन सह प्रदर्शनी केंद्र का निर्माण कर रहा है. (इनपुट एजेंसी)