मुंबई: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) 2.0 सरकार के 100 दिन के प्रदर्शन को सभी मोर्चो पर ‘अभूतपूर्व व ऐतिहासिक’ बताया. मोदी ने कहा, “हम सभी क्षेत्रों में तेजी से काम कर रहे हैं, चाहे वह जल जीवन मिशन हो, देश में मौजूद सभी किसानों की मदद करना हो, तीन तलाक जैसी कुप्रथा से मुस्लिम महिलाओं को मुक्त कराना हो या बच्चों की सुरक्षा के लिए कानून बनाना हो, हमने सभी क्षेत्रों में काम किया है.” उन्होंने कहा कि देश को निश्चित तौर पर अतीत व वर्तमान के अपने सपनों और आकांक्षाओं को पूरा करना चाहिए. इसके साथ ही देश को हमारे बच्चों की बेहतर जिंदगी को सुनिश्चित करने के लिए भविष्य के लिए तैयार रहना चाहिए.

प्रधानमंत्री ने आग्रह करते हुए कहा, “हमें सुनिश्चित करना चाहिए कि आने वाली पीढ़ियों को उन समस्याओं को सामना न करना पड़े, जिसका सामना हमें करना पड़ा है और प्रत्येक व्यक्ति की बेहतरी से देश की प्रगति होगी.” इससे पहले मुंबई के लिए 20,000 करोड़ रुपये से अधिक के वृहत मेट्रो रेल संबंधी आधारभूत परियोजना को लॉन्च करते हुए उन्होंने कहा कि यह मुंबइकरों की जिंदगी को ‘आसान और समय बचाने’ में मदद करेगा. मोदी ने कहा, “जब देश 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की दिशा में बढ़ रहा है, तो हमारे शहरों के लिए भी यह जरूरी है कि वे 21वीं सदी के साथ कदम मिलाकर चलें, इसके लिए सरकार अगले पांच वर्षो में 100 लाख करोड़ रुपये खर्च कर रही है.”

प्रधानमंत्री ने कहा कि अकेले बीते पांच वर्षो में, मुंबई में 150,000 करोड़ रुपये की लागत की परियोजना शुरू की गई है. इससे पहले, मुंबई मेट्रो (वर्सोवा-अंधेरी-घाटकोपर कॉरिडोर) की सेवा केवल 11 किलोमीटर तक ही थी, लेकिन 2022-23 तक, यह बढ़कर 350 किलोमीटर तक हो जाएगी, जिससे बड़ी संख्या में नौकरियों के अवसर उपलब्ध होंगे और मुंबई के लोगों को यात्रा करने में आसानी होगी.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि देश के 27 शहरों में संचालित 675 किलोमीटर ऑपरेशनल मेट्रो लाइन में से 400 किलोमीटर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) के बीते पांच वर्षो के शासनकाल के दौरान बनी और अन्य 600 किलोमीटर की नई लाईन को पहले ही मंजूरी दी जा चुकी है. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और गठबंधन सहयोगी शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने जम्मू एवं कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के लिए प्रधानमंत्री का शुक्रिया अदा किया.

मोदी ने ‘गणपति बप्पा मोरया’ से अपने भाषण की शुरुआत की और भाषण की समाप्ति राज्य के लोगों से गणेश उत्सव की समापन पर मूर्ति विसर्जन के बाद शहर के तटों व नदियों को साफ रखने के आग्रह के साथ की. 10 दिनों तक चलने वाले गणेश उत्सव का समापन 12 सितंबर को होगा.