नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश से संबंधित नीट एवं जेईई की परीक्षाएं कोरोना वायरस महामारी के बीच कराने के फैसले को लेकर शुक्रवार को कहा कि सरकार को छात्रों की आवाज सुननी चाहिए और उनकी इच्छा के अनुसार कदम उठाना चाहिए. Also Read - NEET Answer Key 2020: NTA ने जारी किया नीट का Answer Key, ये है डाउनलोड करने का डायरेक्ट लिंक

सोनिया ने कांग्रेस के ‘स्पीक अप फॉर स्टूडेंट्स सेफ्टी’ अभियान के तहत वीडियो जारी कर कहा, ‘‘मुझे इसका अहसास है कि आप (छात्र) मुश्किल हालात का सामना कर रहे हैं. आपकी परीक्षा के मुद्दे को सबसे अधिक महत्व मिलना चाहिए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ यह सिर्फ आपके लिए बल्कि आपके परिवार के लिए भी महत्वपूर्ण है. आप हमारा भविष्य हैं. हम बेहतर भारत के निर्माण के लिए आप पर निर्भर हैं.’’ Also Read - NEET SS Result 2020 Declared: NBE ने जारी किया NEET SS 2020 का रिजल्ट, ये है चेक करने का Direct Link 

कांग्रेस अध्यक्ष ने इस बात पर जोर दिया कि छात्रों के भविष्य से जुड़ा कोई फैसला उनकी सहमति के आधार पर होना चाहिए. सोनिया ने कहा, ‘‘आशा करती हूं कि सरकार आपकी आवाज सुनेगी और आपकी इच्छा के अनुसार कदम उठाएगी. सरकार को मेरी यही सलाह है.’’ गौरतलब है कि जेईई(मेन) परीक्षा एक से छह सितंबर के बीच होगी, जबकि नीट परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित कराने का कार्यक्रम है. Also Read - NEET Answer Key 2020: NTA इस सप्ताह कभी भी जारी कर सकता है आंसर की, रिजल्ट अक्टूबर के सेकेंड वीक में होगा घोषित, जानें पूरी डिटेल

(इनपुट भाषा)