नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश की राजधानी में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. राजधानी के कैसरबाग इलाके में एक महिला की 14 साल की बच्ची से कहासुनी होने बाद बच्ची पर तेजाब फेकने की घटना सामने आई है. घटना की जानकारी लगते ही पूरे इलाके में हड़कंप मच गया और आनन फानन में बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया. इस घटना में किशोरी के साथ उसके खड़ी दो और महिलाएं भी इसका शिकार हुईं हैं.

दरअसल यह पूरी घटना कैसरबाग थाना क्षेत्र के माल्दा कॉलोनी का है जहां पीड़ित छात्रा रहती है. पीड़िता के मुताबिक जब वह अपने दोस्त के साथ वहां खड़ी थी तभी पड़ोस में रहने वाली आशा ने उस पर एक झोला फेका जिसमें तेजाब की बोतल थी और इसी बोतल से तेजाब गिरकर छात्रा के ऊपर आ गया. दरअसल आशा ने जिसका झोला फेका था वह पेशे से आभूषणों को साफ करने का काम करता है जिसका नाम रामचंद्र सोनी है. आशा ने कुछ दिन पहले रामचंद्र से अपनी पायल साफ कराई थी जो कुछ दिन बाद खराब हो गई थी.

इसी बात को लेकर आशा रामचंद्र से गुस्सा थी और जब उसने दोबारा उसे अपने इलाके में देखा तो वह भड़क उठी और उसने उसका झोला पास में खड़ी छात्रा के ऊपर फेंक दिया जिससे उसके ऊपर तेजाब गिर गया. उधर छात्रा की मां का कहना है कि आशा उसके बच्चों से द्वेष की भावना रखती है और उसने जानबूझकर यह काम किया है.


पुलिस का कहना है कि छात्रा पूरी तरह से खतरे से बाहर है लेकिन वह इस घटना में 18 प्रतिशत तक झुलस गई है. पुलिस ने बताया कि किशोरी के चेहरे, हाथ और गर्दन में तेजाब की बूंदे गिरने से झुलसने के निशान आ गए हैं. पुलिस ने कहा है कि सीधे तौर पर इसे देखें तो यह घटना गलतीवश नजर आती है लेकिन अभी सभी बिंदुओं पर जांच चल रही और इसके बाद ही कोई निर्णय लिया जाएगा. इसके अलावा सिटी एसपी ने यह भी कहा कि महिला के ऊपर FIR दर्ज कर लिया गया है और उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.