New Corona Tune Released: कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान भारत में शुरू होने के साथ ही अधिकारियों ने टीका पर आधारित नयी कॉलर ट्यून जारी की है जिसमें अभिनेता अमिताभ बच्चन की जगह एक महिला की आवाज है. यह महिला वहीं हैं जिनकी आवाज में आपको पहले कोरोना ट्यून सुनाई देती थी. इनका नाम जसलीन भल्ला है.Also Read - युवा शिविर में बोले पीएम मोदी, भारत आज दुनिया की नई उम्मीद बनकर उभरा है

नयी कॉलर ट्यून में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के बारे में जागरूकता फैलाने और अफवाहों पर लगाम कसने का संदेश है. कॉलर ट्यून की आवाज है, ‘‘नया साल कोविड-19 की वैक्सीन के रूप में नई आशा की किरण लेकर आया है.’’ Also Read - बैंक अकाउंट में आ गया पूरे शहर का Covid फंड, करोड़ों रुपये पाकर मालामाल हुआ शख्स घर से गायब

कॉलर ट्यून में कहा गया है कि भारत में विकसित टीका बीमारी के खिलाफ सुरक्षित और प्रभावी है. इसमें कहा गया है, ‘‘भारत में बनी वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है. कोविड के विरूद्ध हमें प्रतिरोधक क्षमता देती है.’’ Also Read - अमेरिका में कोरोना से जान गंवाने वालों का आंकड़ा 10 लाख के पार, दुनिया भर में 62.63 लाख लोगों की हो चुकी है मौत

कॉलर ट्यून में लोगों से टीका पर विश्वास करने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की गई है. नई कॉलर ट्यून में कहा गया है, ‘‘भारतीय वैक्सीन पर भरोसा करें. अपनी बारी आने पर वैक्सीन जरूर लगवाएं. अफवाहों पर भरोसा ना करें.’’ पहले की कॉलर ट्यून में अमिताभ बच्चन की आवाज खांसी के साथ शुरू होती थी जिसके बाद कोविड-19 के लिए सावधानियां बरतने की सलाह दी जाती थी.

कोरोना काल के दौरान कोरोना गाइडलाइन के प्रति जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से कोरोना ट्यून के रूप में कंपनियों ने पहले जसलीन भल्ला की आवाज आती थी लेकिन बाद में सदी के महानायक अमिताभ बच्चन की आवाज ट्यून के रूप में सुनाई देती थी. पिछले कई महीनों से लोग कोरोना ट्यून को हटाने की मांग कर रहे थे और अब अमिताभ बच्चन वाली कोरोना ट्यून को हटा लिया गया है.

हाल में दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर कर केंद्र से कॉलर ट्यून से अमिताभ बच्चन की आवाज हटाने का इस आधार पर निर्देश देने की मांग की गई थी कि वह खुद और उनके परिवार के कुछ सदस्य वायरस से संक्रमित हो गए थे.