नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली से अमृतसर की ओर सड़क मार्ग से यात्रा करने वालों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी की ने बताया कि वे दिल्ली-अमृतसर एक्सप्रेसवे (Delhi-Amritsar Expressway) यानी अमृतसर को राजधानी दिल्ली से जोड़ने वाले एक संपर्क मार्ग की योजना पर काम कर रहे हैं. बता दें कि पंजाब में इस हाइवे की मांग लंबे संमय से चली आ रही है. लेकिन अब लगने लगा है कि यह मांग जल्द ही पूरी हो जाएगी. Also Read - दिल्ली में तीन महीने बाद बहाल होंगी AIIMS की OPD सेवाएं, पहले इन रोगियों का होगा इलाज

बता दें कि एक्सप्रेसवे के बन जाने के बाद अमृतसर से दिल्ली हवाई अड्डे (IGI) तक का सफर 8 घंटे के बजाय 4 घंट में पूरा किया जा सकेगा. इस पूरे प्रोजेक्ट पर 25,000 करोड़ रुपये के खर्च होने का अनुमान लगाया गया है. नितिन गड़करी ने इस बाबत कहा कि दिल्ली-अमृतसर-कटरा एक्सप्रेसवे के एक भाग के रूप में इस नए संपर्क मार्ग का निर्माण किया जाएगा. यह मार्ग नाकोदर से होकर सुल्तानपुर लोधी सहित खदूर साहिब से गुजरेगा. इस सड़क मार्ग के जरिए सिख धर्म के गुरुओं के 5 प्रमुख शहरों को जोड़ा जाएगा. Also Read - कई दिनों तक नवजोत सिंह सिद्धू के बंगले के बाहर इंतजार करती रही बिहार पुलिस, फिर चिपकाया नोटिस

बता दें कि यह हाइवे सिग्नल फ्री होगा. यानी कि इस हाईवे पर सिग्नल की किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आएगी. इस कारण यात्रियों का कहीं रुकने की भी आवश्यकता नहीं होगी. अमृतसर से गुरदासपुर मार्ग का विकास कर इसे भी सिग्नल फ्री बनाया जाएगा. यह सड़क मार्क दिल्ली से अमृतसर के लिए एक आसान और छोटा रास्ता ही नहीं होगा बल्कि यह हाइवे सुल्तानपुर लोधी, गोइंडवाल साहिब, खदूर साहिब, करतारपुर साहिब अंतरराष्ट्रीय गलियारे को भी जोड़ेगा. Also Read - श्रद्धालुओं के लिए खोले गए 'गोल्डन टेंपल' के दरवाजे, लेकिन सख्त नियमों के साथ