नई दिल्ली: रविवार को आए आंधी तूफान से दिल्ली समेत पूरे एनसीआर में दिन के समय ही घना अंधेरा छा गया. राजधानी दिल्ली सहित एनसीआर में रविवार शाम जबर्दस्त धूल भरी आंधी चली. कई इलाकों में बिजली चली गई. दिल्ली और उसके आसपास के क्षेत्रों में रविवार शाम 109 किलोमीटर तक प्रति घंटा की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलने से उड़ान, रेल और मेट्रो सेवाएं प्रभावित हुईं . जगह जगह कई पेड़ उखड़ गए और दीवार ढहने की भी कई घटनाएं हुईं. इन घटनाओं में राजधानी में दो लोगों की मौत हो गई जबकि 50 से ज्‍यादा लोगों के घायल होने की सूचना है. इसकेे अलावा गाजियाबाद के लाल कुआं इलाके में भी दो लोगों की मौत हुई है. ग्रेटर नोएडा में एक व्‍यक्ति की मौत होर्डिंग गिरने से हुई. ऐसे में हम आपको बताते हैं कि आंधी तूफान के समय में आपको क्या सावधानियां बरत सकते हैं.

तूफ़ान आने से पहले ये उपाय करें
– आसमान की ओर अंधेरा सा है, हवा तेज़ है, और कुछ आवाज़ सुनाई दे रही है तो संभल जाएं.
– घर के बाहरी हिस्से में जो भी मरम्मत के काम हों वो पहले ही करा लें.
– इधर-उधर पड़े भारी खासकर लोहे जैसे सामान को खुले में न छोड़ें.
– बच्चों और पालतू जानवर घर में हैं, ये सुनिश्चित कर लें.
– इसके बाद रेडियो, टीवी के जरिए मौसम विभाग की चेतावनी और नई सूचनाओं पर नजर रखें.
– तूफ़ान की सूचना है तो अगर यात्रा कर रहे हैं. कार में हैं तो कहीं रुक जाएं. सफ़र न करें.
– दो-तीन दिन के लिए खाने का सामान स्टॉक करके रख लें.
– ज़रूरत के लिए पानी का भी स्टॉक कर लें. पीने का पानी पर्याप्त है कि नहीं देख लें.
– इमरजेंसी के लिए मेडिकल किट रख लें.

तूफ़ान आए तो ये करें
– तूफ़ान ने अगर दस्तक दे दी है तो कितना भी ज़रूरी काम हो, घर से बाहर न निकलें.
– तूफ़ान आए तो घर को पूरी तरह से बंद कर लें.
– घर की बिजली बंद रखें. इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस न खोलें. ये आसमानी बिजली को आकर्षित कर सकते हैं.
– लैंड लाइन टेलीफ़ोन का इस्तेमाल नहीं करें. मोबाइल सुरक्षित हैं.
– पाइपलाइन और वो पाइप न छुएं जिनमें बिजली दौड़ती हो.
– पाइप से आने वाले पानी का इस्तेमाल न करें. रखा हुआ पानी ही इस्तेमाल करें.
– ठहरे हुए पानी से ही नहाएं. शावर से न नहाएं. बिजली इसके जरिए भी पहुंच सकती है. करंट आ सकता है.
– लोहे (टीन) और मेटल शीट से दूर रहें. दरवाजों, खिड़कियों से दूर रहें.
– इलेक्ट्रिक सामान से दूर रहें. मोबाइल भी चार्ज न करें. ये काम पहले ही कर लें.
– पेड़ के नीचे या उसके पास खड़े न हों. पेड़ तेज़ हवा में गिर कर नुकसान पहुंचा सकते हैं.
– कार में हवा के बीच फंस गए हैं तो कार से बाहर न निकलें. हवा हल्की होने का इंतज़ार करें.
– तूफ़ान आने पर तुरंत ही स्विमिंग पूल, झील, नदी से बाहर आ जाएं.