श्रीनगर: जम्‍मू कश्‍मीर के नए राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने मंगलवार को कहा कि राज्‍य में बहुत कुछ अच्‍छा हुआ है. उन्‍होंने क‍हा कि वे लोगों से बातचीत कर उनकी समस्‍याएं सुलझाने को सर्वोच्‍च प्राथमिकता देंगे.

मलिक ने कहा कि हमें पॉजिटिव नजरिया रखना चाहिए. राज्‍य में हाल के दिनों में कई बातें अच्‍छी हुई हैं. जम्‍मू कश्‍मीर की फुटबॉल टीम ने मोहन बगान को हराया और अमरनाथ यात्रा शांतिपूर्वक संपन्‍न हुई. उन्‍होंने कहा, ‘मैं खुले दिमाग के साथ आया हूं. मैं लोगों से बातचीत करूंगा और उनकी समस्‍याएं जानने की कोशिश करूंगा.’

मलिक ने आगे बताया कि राज्‍य में पत्‍थरबाजी की घटनाएं कम हुई हैं. उन्‍होंने हालांकि कहा कि अभी वे इस बारे में ज्‍यादा नहीं बता सकते, लेकिन इतना तय है कि उनका सारा जोर आम लोगों की समस्‍याएं हल करने पर होगा.

अनुच्छेद 35A हटाए जाने की अफवाहों पर कश्मीर में कई जगह प्रदर्शन, बाजार बंद

पीएम फंड कैसे खर्च हुआ, देखेंगे
नए राज्‍यपाल ने कहा कि जम्‍मू कश्‍मीर में भ्रष्‍टाचार बड़ा मुद्दा है. वे देखेंगे कि प्रधानमंत्री द्वारा भेजे गए फंड को कैसे खर्च किया गया. उन्‍होंने बताया कि राज्‍य की विधानसभा निलंबित होने के चलते विधायक निधि पर भी रोक लगी हुई थी. उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात कर यह रोक हटवा दी है जिससे विधायक अपने क्षेत्रों में विकास कार्यों पर खर्च कर सकें.

मेजर गोगोई ने मानव कवच के रूप में किया था इस्तेमाल, फारूक डार ने कहा- ‘आखिरकार न्याय हुआ’

बातचीत मेरा काम नहीं
मलिक ने स्‍पष्‍ट किया कि वे राजनीतिक नेताओं से मेलजोल रखेंगे, लेकिन बातचीत करना उनकी जिम्‍मेदारी नहीं है. वे मध्‍यस्‍थों से बुधवार को मिलेंगे और फीडबैक लेंगे. वे राज्‍य के लोगों से सीधे बातचीत करेंगे और उनकी समस्‍याएं सुलझाएंगे.

बता दें कि सत्‍यपाल मलिक को 21 अगस्‍त को जम्‍मू कश्‍मीर का नया राज्‍यपाल नियुक्‍त किया गया. उन्‍होंने एन एन वोहरा की जगह ली. मलिक इससे पहले बिहार के राज्‍यपाल थे.