नई दिल्‍ली: राष्‍ट्रीय मानवाधिकार आयोग (National Human Rights Commission) ने मंगलवार को महाराष्‍ट्र के पुलिस महानिदेशक (DGP) को बीते गुरुवार को पालघर जिले में बीते गुरुवार को तीन साधुओं की भीड़ द्वारा हत्‍या किए जाने के मामले में नोटिस जारी किया है. Also Read - Maharashtra Local News: महाराष्ट्र सरकार ने 7.2 लाख ऑटो रिक्शा चालकों को दी बड़ी राहत, 108 करोड़ रुपये किए आवंटित

NHRC ने पालघर लिंचिंग मामले को लेकर DGP महाराष्ट्र को जारी नोटिस में मृतक व्यक्तियों के परिजनों को राहत और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए 4 सप्ताह के भीतर एक विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. बता दें कि इस जघन्‍य हत्‍याकांड को लेकर देशभर में रोष व्‍याप्‍त है. Also Read - इन दस राज्यों में कोविड-19 के 71 फीसदी से ज्यादा नए मामले, महाराष्ट्र और कर्नाटक सबसे आगे

बता दें कि पालघर जिले के कासा थानांतर्गत गुरुवार 16 अप्रैल को भीड़ ने दो साधुओं और उनके ड्राइवर की पीट-पीटकर हत्या कर दी. तीनों लॉकडाउन के दौरान एक अंतिम संस्कार में भाग लेने के लिए गुजरात में सूरत जा रहे थे. मुंबई के दो संतों समेत तीन लोग कार से गुजरात के सूरत जा रहे थे, तभी रास्ते में पालघर में ग्रामीणों ने चोर होने के संदेह पर उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी. इस मामले में 110 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया है.